गुरुग्राम। थल सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने कहा कि आज हम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं। इस लड़ाई में हमने दुश्मनों को लगातार पराजित किया है, लेकिन हमारे शत्रुओं ने अपनी कार्यशैली में काफी बदलाव किया है। अब उनकी गतिविधियां देश की सीमाओं और कुछ क्षेत्रों तक ही सीमित नहीं रहीं बल्कि पूरे देश के किसी भी इलाके में ऐसा हो सकता है। इसी के मद्देनजर हमने भी अपने तौर-तरीकों और टेक्नोलॉजी में बदलाव किया है।

शत्रुओं से निपटने के लिए देश ने अपनी क्षमताओं का भी विस्तार किया है। शनिवार को मानेसर स्थित नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) परिसर में आठवीं ऑल इंडिया पुलिस कमांडो कंप्टीशन के उद्घाटन के बाद जनरल रावत ने कहा कि बाहरी दुश्मनों से देश को बचाने के लिए तो सेना है, लेकिन देश की आंतरिक सुरक्षा की जिम्मेदारी आप सभी की है।

उन्होंने एनएसजी के जांबाजों की तारीफ करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चुनिदा संभ्रांत सुरक्षा एजेंसियों में इसका नाम शुमार है। एनएसजी अपना काम बड़े ही पेशेवर ढंग से करती है। इन्हीं के कारण आतंकी अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाते हैं।