मल्टीमीडिया डेस्क। सोशल मीडिया पर अक्सर मौसम के साथ उससे जुड़ी चेतावनियां आती रहती हैं लेकिन कईं बार यह साफ नहीं होता कि यह चेतावनी सही है या गलत। ऐसा ही एक मैसेज इन दिनों फेसबुक और व्हाट्सएप पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें इंडियन ऑइल के हवाले से गर्मी में पेट्रोल को लेकर अलर्ट जारी किया गया है।

इस मैसेज में लोगों को चेतावनी दी गई है कि वो भीषण गर्मी में अपनी बाइक में पेट्रोल फुल टैंक ना करवाएं नहीं तो हादसा हो सकता है। इसके बाद अब कंपनी ने इसे लेकर सफाई जारी की है जो बताती है कि यह वायरल मैसेज सच्चा है या नहीं।

यह मैसेज हो रहा वायरल

'इंडियन ऑइल ने दी चेतावनी

आने वाले दिनों में तापमान में वृद्धि होना तय है, इसलिए अपने वाहन में पेट्रोल अधिकतम सीमा तक न भरवायें। यह ईंधन टैंक में विस्फोट का कारण बन सकता है। कृपया आप अपने वाहन में आधा टैंक ही ईंधन भरवायें और एयर के लिए जगह रखें। इस हफ्ते 5 विस्फोट दुर्घटनाओं की वजह , अधिकतम पेट्रोल भरने से हुआ है। कृपया पेट्रोल टंकी को दिन में एक बार खोलकर अंदर बन रही गैस को बाहर निकलने दे।

नोट: इस मैसेज को आप अपने परिवार सदस्यों व अन्य सभी को भेजें, जिससे लोग इस दुर्घटना से बच सकें धन्यवाद।'

यह है इस मैसेज की सच्चाई

तेजी से वायरल हो रहे इस मैसेज को लेकर इंडियन ऑयल ने सफाई जारी की है। हालांकि, यह पहली बार नहीं बल्कि दो साल पहले भी कंपनी ने इस तरह की खबरों को अफवाह करार देते हुए इन्हें झूठा करार दिया था। अब इस बार भी कंपनी ने फिर से अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर बयान जारी किया है।

अपने इस बयान में इंडियन ऑइल ने कहा है कि ऑटोमोबाइल कंपनियां अपने वाहनों का इस तरह डिजाइन करती हैं कि वो अपने परफॉर्मेंस से जुड़े आवश्यक मापदंडों के अनुसार हो। साथ ही आसपास के हालातों को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा मानकों के अनुसार बनाती हैं। कार और बाइक में अधिकतम पेट्रोल और डीजल की मात्रा तय होती है और ऐसे में अगर कोई अपने वाहन में फुल टैंक तक पेट्रोल या डीजल भरता है तो यह पूरी तरह से सुरक्षित होता है चाहे फिर वो गर्मी हो या ठंड हो।