हाथरस। यूपी में BSP के दिग्गज नेता विधायक रामवीर उपाध्याय को धमकी भरा पत्र मिला है। इसमें बच्चे के अपहरण की धमकी देते हुए 22 करोड़ रुपये की मांग की गई है। उनके निजी सचिव ने पुलिस को मामले की शिकायत दी है। पूर्व मंत्री के आवास पर बने कार्यालय में 15 मई को स्पीड पोस्ट से एक लिफाफा पहुंचा। शुक्रवार को वह लिफाफा खोला गया तो उसमें धमकी भरा पत्र था। इसमें परिवार के किसी बच्चे का अपहरण करने की धमकी देते हुए 22 करोड़ रुपये खाते में डालने की बात लिखी है। पत्र में 13 मोबाइल नंबर लिखे हैं।

पत्र में लिखा है कि दिए गए नंबरों पर कॉल कर बोलें 420 नंबर मुनीम। फोन उठाने वाले को रकम दे दें। लिफाफे पर प्रेषक का नाम केके पाठक, हाउस नंबर 1, जामुन वाली गली, सासनी, हाथरस लिखा है। शिकायत के साथ पत्र की छाया-प्रति भी पुलिस को दी गई है।

पत्र के हर बिंदु की जांच की जा रही है। जो भी पता अंकित है, उसकी भी पड़ताल चल रही है। फोन नंबरों को भी ट्रेस किया जा रहा है। जांच के बाद ही अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। - जितेंद्र कुमार दीखित, एसएचओ, हाथरस गेट

मैं इन धमकियों से डरने वाला नहीं हूं। पुलिस ने पहले भी इस तरह के पत्रों के मामलों में कोई कार्रवाई नहीं की। - रामवीर उपाध्याय, विधायक सादाबाद