हल्द्वानी। यह अजीब, हैरत कर देने वाला मामला है। एक युवती ने पुरुष का स्वांग कर एक नहीं दो महिलाओं से शादी की। दोनों के साथ पति-पत्नी के संबंध भी निभाए। राज तब खुला जब पति-पत्नी के बीच चार साल के रिश्तों के बीच क्लेश की खाई गहराई और पुलिस ने कथित पति को गिरफ्तार कर लिया।

14 फरवरी 2014 को काठगोदाम निवासी एक महिला की शादी उप्र के धामपुर, जिला बिजनौर निवासी कथित युवक कृष्णा सेन से हुई। दोनों उत्तराखंड में हल्द्वानी के मल्ला गोरखपुर इलाके में किराए के मकान में रहने लगे। सीएफएल फैक्टरी लगाने की बात कहकर कथित पति ने महिला से अलग-अलग किश्तों में आठ लाख रुपए ले लिए।

2016 में महिला को कथित पति के दूसरी महिला से भी शादी करने का पता चला। छह अक्टूबर 2017 को पहली पत्नी ने अपने कथित पति पर रुपए ठगने के साथ ही पांच लाख रुपए दहेज मांगने, दूसरी शादी करने व विरोध करने पर धमकी देकर मारपीट करने के आरोप में मारपीट व दहेज उत्पीड़न की धारा में मुकदमा दर्ज कराया। तभी से काठगोदाम थाना पुलिस आरोपी कथित पति को तलाश रही थी।

मंगलवार रात पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरूकी। पुलिस की सख्ती पर वह टूट गया। राज खोला तो सभी भौंचक थे। उसने कहा कि वह पुरुष है ही नहीं तो शादी कैसे कर सकता है। पुलिस ने बुधवार सुबह उसका महिला अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराया तो इसकी पुष्टि भी हो गई। अब पुलिस हैरत में थी कि महिलाओं ने कथित पति द्वारा संबंध बनाने की बात स्वीकारी थी।

कड़ाई से पूछताछ हुई में पता चला कि वह कमरे में पत्नी के साथ होने पर अंधेरा कर देता था। उसने एक ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी से यौन खिलौने मंगाए थे। अंधेरे में उसने खिलौनों से संबंध बनाने की बात स्वीकारी।

पुलिस ने अब आरोपी कृष्णा सेन को जालसाजी व महिलाओं के यौन उत्पीड़न के मामले में जेल भेजा है। पुलिस अधीक्षक जन्मेजय प्रभाकर खंडूड़ी का कहना है कि युवती के पुरुष बनकर दो महिलाओं से शादी करने का मामला अचंभित करने वाला है। प्राथमिक जांच में युवती के महिलाओं संग ठगी का मामला सामने आया है।

पुरुष के नाम से ही बनवाए प्रमाण पत्र

युवती ने अपना आधार कार्ड, वोटर कार्ड व पैन कार्ड समेत तमाम दस्तावेज भी पुरुष के नाम से बनवा रखे हैं। पुलिस ने इन दस्तावेजों को भी जब्त कर लिया है।