अगरतला। पिछले 48 घंटों से हो रही लगातार बारिश उत्तर पूर्व के राज्यों के लिए तबाही लेकर आई है। मणिपुर व त्रिपुरा में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि बाढ़ की वजह से त्रिपुरा में 14 हजार लोग बेघर हो गए हैं।

असम में बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। रेल परिचालन बाधित हुआ है। त्रिपुरा में सरकार ने केंद्र से सहायता मांगी है जिससे जनजीवन को फिर से पटरी पर लाया जा सके।

मुख्यमंत्री बिप्लव देव ने उनकोटी का बुधवार को दौरा करके गृह मंत्री राजनाथ को सारी रिपोर्ट दी। केंद्र ने सहायता का आश्वासन दिया है। मणिपुर में बारिश व बाढ़ की वजह से सरकार ने शुक्रवार तक अवकाश घोषित कर दिया है।

मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह खुद स्थिति पर नजर रख रहे हैं। असम के दीमाहासो जिले में पांच जगहों पर भूस्खलन के चलते रेल परिचालन बाधित हुआ। मिजोरम में भी बारिश ने भारी नुकसान किया है।

भूस्खलन से चार की मौत

केरल में भूस्खलन के चलते चार लोगों की मौत हो गई, जबकि दस लापता हो गए हैं। उनका अभी तक पता नहीं चल सका है। राज्य में बारिश व बाढ़ से मरने वाले लोगों की तादाद 27 हो चुकी है।

भूस्खलन कॉझीकोडे जिले में हुआ। मुख्यमंत्री पी विजयन खुद हालात पर नजर रख रहे हैं। उन्होंने मौतों की पुष्टि करते हुए कहा कि ये बेहद दुखद है।