बेंगलुरू। देश के नए अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट हिसाइस को इसरो ने 29 नवंबर को लॉन्च किया था। इसने अंतरिक्ष से पहली तस्वीर भेजी है, जिसमें गुजरात के लखपत जिले का हिस्सा दिखाई दे रहा है। हायपरस्पेक्ट्रल इमेजिंग सैटेलाइट (HySIS) से भेजी गई तस्वीरों को नेशनल रिमोट सेंसिंग सेंटर में रविवार को हासिल किया गया।

इस सैटेलाइट का इस्तेमाल कई कामों में किया जा सकता है। उदाहरण के लिए कृषि, मृदा सर्वे और पर्यावरण की निगरानी जैसे काम इससे आसानी से किए जा सकते हैं। सिटी हेडक्वाटर्ड में इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन (इसरो) के सूत्रों ने बताया कि एजेंसी हिसाइस से भेजी गई तस्वीरों की गुणवत्ता से पूरी तरह संतुष्ट है।

बताते चलें कि 29 नवंबर को श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर से PSLV-C43 रॉकेट की मदद से 30 अन्य विदेशी स्पेसक्राफ्ट के साथ ही हिसाइस सैटेलाइट को प्रक्षेपित किया गया था। इसका वजन 380 किलो है और यह सैटेलाइट विजिबल, नियर इंफ्रारेड और शॉर्टवेव इंफ्रारेड रीजन ऑफ इलेक्ट्रोमैग्नेटिक स्पेक्ट्रम में धरती की सतह का अध्ययन करने के लिए बनाया गया है।