नोएडा। आइआइटी दिल्ली ने यमुना एक्सप्रेस-वे का सुरक्षा ऑडिट शुरू कर दिया है। आइआइटी के विशेषज्ञों की चार सदस्यीय टीम ने ग्रेटर नोएडा से आगरा तक एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण किया है। टीम ने एक्सप्रेस-वे के यातायात प्रबंधन की जानकारी ली और पिछले तीन माह के दौरान एक्सप्रेस-वे पर हुए हादसों का डाटा मांगा है।

टीम जल्द ही व्यापक स्तर पर एक्सप्रेस-वे की खामियों को तलाशने एवं उन्हें दूर करने के लिए सुझाव तैयार करेगी। सड़क सुरक्षा के लिए गठित सुप्रीम कोर्ट की समिति ने यमुना प्राधिकरण को एक्सप्रेस-वे का सुरक्षा ऑडिट कराने के निर्देश दिए थे।

प्राधिकरण ने सुरक्षा ऑडिट के लिए आइआइटी दिल्ली को जिम्मेदारी सौंपी है। तीन माह में ऑडिट का कार्य पूरा कर टीम एक्सप्रेस-वे पर हादसों में कमी लाने के लिए अपने सुझाव देगी।

इन सुझावों को मार्च 2019 तक अमलीजामा पहनाकर समिति को रिपोर्ट देगी। प्रोफेसर गीतम तिवारी के नेतृत्व में आइआइटी की चार सदस्यीय टीम ने काम शुरू कर दिया है।