खड़गपुर। रेलवे अधिकारी सौरभ कुमार (31) की रहस्यमय मौत मामले में बंगाल पुलिस ने आखिरकार हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस को जल्द ही कोई सुराग मिलने की उम्मीद है। गत 22 सितंबर को रेलवे क्षेत्र के ओल्ड सेटलमेंट, गोल बाजार स्थित क्वार्टर में सौरभ कुमार का सड़ा-गला शव मिला था। मूल रूप से बिहार के हाजीपुर जिलांतर्गत विद्यापुर गांव के रहने वाले सौरभ खड़गपुर रेलवे जनरल स्टोर में उच्च पद पर थे। वे वर्ष 2013 से यहां थे और क्वार्टर में अकेले ही रहते थे।

कॉलोनी के लोगों की दुर्गंध की शिकायत पर जब पुलिस उनके क्वार्टर के भीतर घुसी तो बिस्तर पर सौरभ का शव पड़ा मिला। शव कई दिन पुराना होने की वजह से उसमें सड़न उत्पन्न हो गई, जिसकी वजह से आस-पड़ोस के लोगों को घटना के बारे में पता चला।

पुलिस अधिकारियों का अनुमान था कि सोते समय किसी जहरीले कीड़े के काटने से घटना हुई होगी, लेकिन परिजनों की मांग और प्राथमिक जांच के बाद आखिरकार इस संबंध में हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया। खड़गपुर टाउन थाने के प्रभारी ज्ञानदेव प्रसाद साव ने कहा कि मामले की पड़ताल शुरू कर दी गई है।