नई दिल्ली। आयकर विभाग ने कथित कर चोरी के मामले में गुरुवार को मीडिया कारोबारी राघव बहल के घर और दफ्तर पर छापा मारा। बहल के नोएडा स्थित घर की सुबह तलाशी ली गई। आयकर विभाग विभिन्न हितग्राहियों के जरिये बहल द्वारा प्राप्त "फर्जी दीर्घावधि पूंजीगत लाभ" (एलटीसीजी) के केस से संबंधित दस्तावेज व अन्य सबूत जुटाना चाहता था।

तीन सहयोगी भी घेरे में

आयकर विभाग ने इसी मामले में बहल के अलावा तीन अन्य लाभग्राहियों व पेशेवरों- जे. लालवानी, अनूप जैन व अभिमन्यु के परिसरों की भी जांच की। अफसरों ने बताया कि इनके विदेशी कंपनियों से कनेक्शन की भी जांच की जा रही है।

बहल ने जताई चिंता, कहा- कर नियमों का पूरा पालन

छापों के वक्त बहल मुंबई में थे। उन्होंने इस कार्रवाई पर चिंता जताते हुए कहा कि दर्जनों आयकर अधिकारी उनके घर पहुंचे और निवास व वेबसाइट के दफ्तर की तलाशी ली। उन्होंने कहा कि वह पूरी तरह से कर नियमों का पालन करते हैं और सारे दस्तावेज विभाग को मुहैया कराएंगे।

आयकर विभाग वेबसाइट के दफ्तर से पत्रकारिता से जुड़ी संवेदनशील सामग्री को न छुए। अनधिकृत सामग्री प्राप्त करने के लिए उनके स्मार्टफोनों का भी दुरुपयोग न किया जाए, यदि ऐसा किया गया तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बहल ने इस मामले में एडिटर्स गिल्ड से मदद की अपेक्षा जताई है। बहल क्विंट न्यूज पोर्टल और नेटवर्क 18 समूह के संस्थापक व मीडिया उद्यमी हैं।