Jammu Kashmir Live Update: राज्यपाल ने सही ठहराया फैसला, उमर बोले हो रही थी साजिश

Thu, 22 Nov 2018 01:18 PM (IST) | अजय बर्वे

HIGHLIGHT

  1. 19 दिसंबर से राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू होने का रास्ता साफ।
  2. पीडीपी, नेकां व कांग्रेस ने विधानसभा को भंग किए जाने के फैसले के खिलाफ राज्यव्यापी प्रदर्शन करने का एलान किया है।
  3. राज्यपाल ने चारों सलाहकारों की राय के बाद लिया फैसला विधानसभा भंग करने का फैसला।

जम्मू-कश्मीर में बुधवार को तेजी से बदले सियासी समीकरणों के बीच राज्यपाल ने विधानसभा भंग कर दी। पीडीपी, नेशनल कांग्रेस और कांग्रेस द्वारा मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किए जाए उससे पहले ही राज्यपाल ने विधानसभा भंग कर दी। हालांकि, इसी समय पीपुल्स कांफ्रेंस के सज्जाद लोन भाजपा के साथ सरकार बनाने का दावा पेश कर रहे थे। विधानसभा भंग होने के बाद अब इस पर सियासत तेज हो गई है।

22 November 2018
  • 03:08 PM

     कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने जम्मू-कश्मीर विधानसभा भंग करने के फैसले को असंवैधानिक करार दिया है।

  • 01:12 PM

     जम्मू-कश्मीर में आगे की रणनीति बनाने के लिए भाजपा कोर ग्रुप की बैठक जारी है।

  • 12:11 PM

     राज्यपाल के हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों पर कहा कि जब तीन दल साथ थे तो हॉर्स ट्रेडिंग कहा से हो रही थी। 

  • 12:10 PM

     राज्यपाल के बायन पर निशाना साधते हुए कहा कि जब भाजपा-पीडीपी साथ आए तब तो कुछ नहीं कहा और अब हमने गठबंधन किया तो इसे अपवित्र बता दिया।

  • 12:08 PM

     उमर अब्दुल्ला ने कहा कि लोकतंत्र में पहली बार फैक्स मशीन विलेन बनी है। ये कैसी फैक्स मशीन है जो इशारों पर चलती है।

  • 12:08 PM

     भाजपा सरकार बनाने की साजिश रच रही थी। 

  • 12:07 PM

     विधानसभा भंग पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए नेकां प्रमुख उमर अब्दुल्ला ने कहा कि जब से राज्य में सरकार गिरी हम चुनाव चाहते थे।

  • 11:17 AM

     अपने फैसले को लेकर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि मैंने किसी के साथ पक्षपात नहीं किया बल्कि राज्य की जनता के भले के लिए जो करना था वो किया। मैंने राज्य में अपवित्र गठबंधन होने से रोका है।

  • 11:16 AM

    जम्मू-कश्मीर विधानसभा भंग को लेकर भाजपा नेता राम माधव ने कहा कि पीडीपी और नेशनल कांग्रेस ने राज्य में निकाय चुनावों का विरोध किया क्योंकि उन्हें सीमापार से निर्देश मिले थे। संभवतः उन्हें सरकार बनाने के नए निर्देश मिले होंगे।

  • 10:08 AM

     उमर अब्दुल्ला ने इसके साथ ही महबूबा मुफ्ती के ट्वीट से सहमति भी जताई है।

  • 10:07 AM

     उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर राजभवन की फैक्स मशीन पर तंज कसा है।

  • 09:32 AM

     विधानसभा भंग किए जाने के बाद राजभवन से बुधवार देर रात बयान जारी कर बताया गया कि आखिर राज्यपाल ने यह कदम क्यों उठाया।

    जम्मू-कश्मीर: जानिए राज्यपाल ने क्यों और कैसे की विधानसभा भंग

  • 09:04 AM

     वहीं उन्होंनें सरकार बनाने के लिए समर्थन देने पर उमर अब्दुल्ला और कांग्रेस नेता अंबिका सोनी को धन्यवाद भी कहा है।

  • 09:03 AM

     राज्यपाल के फैसले के बाद महबूबा मुफ्ती ट्वीट कर सवाल उठाया है कि आज के वक्त में यह कैसे संभव है कि राज्यपाल को हमारा लेटर नहीं मिला। 

  • 08:35 AM

    भाजपा ने भी अपने विधायकों की महत्वपूर्ण बैठक बुलाई है जिसमें पार्टी आगे की रणनीति बनाएगी।

  • 08:32 AM

     राज्य में राजनीतिक हलचल तेज हो गई है और सभी दल आगे की रणनीति बनाने में लग गए हैं।

  • 08:32 AM

     विधानसभा भंग होने के बाद जहां सियासत तेज है वहीं चुनाव आयोग पर सभी की नजरें टिकी हुई हैं।

  • 08:29 AM

     संविधान के मुताबिक जम्मू- कश्मीर में छह माह से ज्यादा समय तक राज्यपाल शासन लागू नहीं रखा जा सकता। इसलिए अब 19 दिसंबर से राष्ट्रपति शासन लागू होगा।

  • 08:27 AM

     महबूबा के इस पत्र के सार्वजनिक होते ही पीपुल्स कांफ्रेंस के चेयरमैन सज्जाद गनी लोन ने भी राज्यपाल को भाजपा के सहयोग से सरकार बनाने का अपने दावे का पत्र भेजा था।

  • 08:26 AM

     पीडीपी, नेकां व कांग्रेस ने विधानसभा को भंग किए जाने के फैसले के खिलाफ राज्यव्यापी प्रदर्शन करने का एलान किया है।

  • 08:25 AM

     विधानसभा भंग होने के साथ ही राज्य में सियासत तेज हो गई है और तीनों दलों ने इसका विरोध भी किया है।

  • 08:25 AM

     जम्मू-कश्मीर में पीडीपी, कांग्रेस और नेकां के सरकार बनाने के दावे से पहले ही राज्यपाल ने विधानसभा भंग कर दी है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK