चन्नापटना। क्या कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है? सूबे के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का ताजा बयान तो इसी ओर इशारा कर रहा है। उनका कहना है कि गठबंधन सरकार चलाने के लिए उन्हें हर दिन जिस पीड़ा से गुजरना पड़ रहा है उसे वो बयां नहीं कर सकते। हालांकि इस पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता सिद्दरमैया ने कहा है कि गठबंधन सरकार को कोई खतरा नहीं है। कुमारस्वामी इससे पहले भी अपनी पीड़ा बयां कर चुके हैं।

अब एक कार्यक्रम में मौजूद लोगों से उन्होंने कहा, 'मैं वादा करता हूं कि आपकी उम्मीदों को पूरा करूंगा। जिस दर्द से मुझे रोज गुजरना पड़ रहा है उसको मैं व्यक्त नहीं कर सकता। मैं आपसे अपना दर्द बताना चाहता हूं, लेकिन बता नहीं सकता। मुझे राज्य के लोगों के दर्द को दूर करना है। सरकार को सही ढंग से चलाने की जिम्मेदारी मेरी है।'

कुमारस्वामी ने यह भी आरोप भी लगाया कि भाजपा उनकी पार्टी के विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है। भाजपा के एक नेता ने उनकी पार्टी के एक विधायक को पार्टी में शामिल होने पर 10 करोड़ का लालच दिया है। मुख्यमंत्री के मुताबिक, खुद विधायक ने उन्हें फोन कर यह जानकारी दी है। नई दिल्ली में सिद्दरमैया ने भी भाजपा पर ऐसा ही आरोप लगाए।

उन्होंने कहा, राज्य की गठबंधन सरकार को कोई खतरा नहीं है। कहीं कोई समस्या नहीं है। भाजपा लगातार सरकार को गिराने की साजिश रच रही है, लेकिन वे सफल नहीं होंगे। मालूम हो, एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करते हुए दो निर्दलीय विधायकों को मंत्री बनाया था। राजभवन में आयोजित सादे समारोह में राज्यपाल वजूभाई वाला ने आर शंकर और एच नागेश को मंत्री पद की शपथ दिलाई थी।