तेलंगाना। एक कपल अस्पताल से एक-दूसरे से बात करते हुए निकाल रहे थे, तभी एक अन्य महिला भी उनके साथ चलने लगी। कपल जैसे ही गेट तक पहुंचा, एक शख्स उस कपल के पीछे-पीछे चलने लगा। जैसे ही अस्पताल के गेट से वे बाहर निकले उस शख्स ने पति पर हथियार से हमला कर दिया। पहले ही वार में वह गिर पड़ा और हमलावर ने भागने से पहले एक बार और उसके सिर पर दे मारा। नलगोंडा जिले के मिर्यालगुड़ा में ज्योति अस्पताल के बाहर हुए इस हमले में प्रणय पेरुमल्ला नाम के इस शख्स की जान चली गई। वह अपनी प्रेग्नेंट पत्नी अमृता के साथ उसका चेक-अप करवाने आया था।

इस कपल की 6 महीने पहले ही शादी हुई थी और अमृता को तीन माह का गर्भ था। सीसीटीवी कैमरे में पूरी घटना रिकॉर्ड हो गई है।

अमृता स्थानीय महिला विशेषज्ञ के पास चेकअप के लिए आई थी और यह कपल चेकअप के बाद घर लौट रहाथा। इस बीच एक युवक ने पीछे से आकर हंसिए से प्रणय पर हमला कर दिया। हमले के बाद अमृता और उसके साथ मौजूद महिला मदद के लिए अस्पताल के अंदर मदद के लिए भागी लेकिन प्रणय की मौके पर ही मौत हो गई थी। पत्नी के सामने पति की हत्या कर देने से पत्नी को सदमा पहुंचा।

शुरुआती रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रणय अनुसूचित जाति का था और अमृता हिंदू परिवार से ताल्लुक रखती थी। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक मृतक के परिवार के सदस्यों ने अमृता के परिवार पर आरोप लगाया है कि जो कि उनके प्रेम विवाह से नाराज थे। अमृता के पिता मारुति राव मिर्यालगुड़ा में रियल एस्टेट व्यापारी है। इस घटना के चलते मिर्यालगुड़ा में तनाव की स्थिति बनी। जिला पुलिस अधीक्षक रंगनाथ ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। पुलिस हमलावर की तलाश कर रही है।