नई दिल्‍ली। पीएम मोदी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के बाद चौतरफा घिरे मणिशंकर अय्यर पर कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई की है।

कांग्रेस ने मणिशंकर अय्यर को कारण बताओ नोटिस जारी कर उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर ने ऐन गुजरात चुनाव के बीच प्रधानमंत्री पर अपमानजनक टिप्पणी कर कांग्र्रेस को बैकफुट पर डाल दिया है।

गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए अय्यर ने सभी राजनीतिक मर्यादाओं को तार-तार करते हुए उन्हें "नीच" और "असभ्य" तक कह दिया।

इस पर मोदी ने कहा कि यह मेरा नहीं, गुजरात का अपमान है और कांग्रेस को इसका अर्थ 18 दिसंबर को विधानसभा चुनाव के परिणाम वाले दिन पता चलेगा।

इससे घबराई कांग्र्रेस ने देर शाम मणिशंकर अय्यर को पार्टी से निलंबित कर दिया। साथ ही मामले में कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है। यह जानकारी कांग्र्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट करके दी।

गुजरात विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के तहत 89 सीटों के लिए प्रचार गुरुवार को समाप्त होते-होते भाषा निम्न स्तर तक पहुंच गई।

2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी को चायवाला कहने वाले कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री के लिए फिर निम्न स्तर की भाषा का उपयोग कर चुनावी संवाद का जायका बिगाड़ दिया।

दरअसल, दिल्ली में गुरुवार को नेहरू परिवार पर परोक्ष निशाना साधते हुए मोदी ने एक कार्यक्रम में कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर के जाने के बरसों बाद तक राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को मिटाने के प्रयास किए जाते रहे।

लेकिन, जिस "परिवार" के लिए यह सब किया गया, उससे कहीं ज्यादा लोग आज बाबा साहेब से प्रभावित हैं। लेकिन मोदी के इस तंज का जवाब देते हुए अय्यर सारी मर्यादा लांघ गए।

कांग्रेस नेता ने कहा कि अंबेडकर की सबसे बड़ी ख्वाहिश को जवाहरलाल नेहरू ने साकार किया। इस परिवार के बारे में ऐसी गंदी बात कही, जबकि अंबेडकर की याद में एक इमारत का उद्घाटन हो रहा है। मुझे लगता है यह आदमी बहुत नीच किस्म का है।

राहुल के कहने पर मांगी माफी

इससे पहले अय्यर की विवादित टिप्पणी के लिए राहुल गांधी फटकार लगा चुके थे। उन्होंने ट्वीट किया, कांग्रेस की एक अलग संस्कृति और विरासत है। मैं मणिशंकर अय्यर द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा का समर्थन नहीं करता हूं।

अय्यर ने जो कहा है, वह उसके लिए माफी मांगेंगे। विवाद और राहुल गांधी के बयान के बाद अय्यर ने माफी मांग ली। उन्होंने कहा, "हां मैंने अंग्रेजी में नीच कहा था।

अगर इसका मतलब हिंदी में ऐसा होता है तो मैं माफी मांगता हूं। मैं अच्छे से हिंदी नहीं जानता। मैंने एक शब्द का इस्तेमाल किया, जिसके कई मायने निकलते हैं।"