हैदराबाद।न्यूजीलैंड में भारत के हाई कमीश्नर संजीव कोहली ने ट्वीट कर बताया है कि हमले में नौ भारतीय लापता है। न्यूजीलैंड की दो मस्जिदों में हुए हमले में एक भारतीय भी घायल हुए है। घायल का नाम अहमद इकबाल जहांगीर है और वह हैदराबाद का रहने वाले है। आतंकी हमले में घायल जहांगीर फिलहाल क्राइस्टचर्च के एक अस्पताल में जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रहे हैं।

इकबाल जहांगीर के परिवार ने तेलंगाना और केंद्र सरकार से अपील की है कि वह इकबाल जहांगीर के भाई खुर्शीद को जल्द वीसा दिलवाए जिससे वह जल्द क्राइस्टचर्च जाकर अपने भाई की मदद कर सके।

इकबाल जहांगीर के भाई खुर्शीद जहांगीर ने बताया कि इकबाल पिछले 12 सालों से न्यूजीलैंड में हैदराबादी खाने का एक रेस्टॉरेंट चला रहा हैं। वह मस्जिद में शुक्रवार की नमाज अदा करने के लिए गया था।

खुर्शीद जहांगीर ने बताया कि इकबाल के परिवार में पत्नी के अलावा 3 और 5 साल के दो बच्चे हैं। उन्होंने कहा कि उनको अभी तक इकबाल के बारे में कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है की हकीकत में वहां क्या हुआ है। इकबाल 6-7 महीने पहले हैदराबाद आया था। इकबाल के परिवार में नौ भाई और पांच बहने हैं। उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड में काफी कम अपराध होते हैं, लेकिन इस तरह के हादसे काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। उनकी मां हादसे के बाद से काफी चिंतित है। खुर्शीद ने वीजा के संबंध में हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन औवेसी से भी मुलाकात की है।

सांसद औवेसी ने ट्वीट कर बताया है कि हैदराबाद के रहने वाले फरहाज अहसन भी हमले के बाद से लापता हैं। फरहाज भी उसी मस्जिद में नमाज अदा करने के लिए गए हुए थे। उनके परिवार ने जो जानकारी मुझे बताई वह मैं आपके साथ शेयर कर रहा हूं।

इस मामले में सांसद असदुद्दीन औवेसी ने कहा है कि मैं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से अपील करता हूं कि वह खुर्शीद के परिवार के लिए जरूरी इंतजाम करें। औवेसी ने ट्वीट कर कहा कि मेरी अपील है कि विदेश मंत्रालय जल्द वीसा जारी करे, दूसरे जरूरी इंतजाम हम कर लेंगे। जिससे खुर्शीद जल्द न्यूजीलैंड पहुंचकर उसके परिवार की मदद कर सके।