नई दिल्ली। पीएनबी घोटाले का आरोपी नीरव मोदी ने सिर्फ बैंकों को ही चूना नहीं लगाया, बल्कि लोगों के विश्वास को भी तोड़ा है। विदेशों में भी लोगों के साथ धोखा-धड़ी करने का एक मामला सामने आया है। नीरव ने कनाडा के 36 वर्षीय पॉल अल्फॉन्सो को दो लाख डॉलर (करीब 1.5 करोड़ रुपए) की कीमत की नकली हीरे की अंगूठियां बेच दीं।

पॉल ने नीरव मोदी पर आरोप लगाया है कि नीरव ने उनको नकली हीरे की अंगूठियां बेच दीं। पॉल ने ये अंगूठियां अपनी मंगेतर के लिए खरीदी थीं। इसकी वजह से उनकी सगाई टूट गई। पॉल ने कहा कि उनकी प्रेमिका भी उन पर भरोसा करने को तैयार नहीं थी। उसे लगता था कि उन्होंने जानबूझकर यह नकली हीरे खरीदे हैं। कुछ ही दिनों के बाद उनका रिश्ता टूट गया।

दरअसल, उनकी प्रेमिका अपनी अंगूठी को लेकर एक अन्य ज्वैलर के यहां जांच कराने पहुंची, तो उसे पता चला कि हीरे नकली हैं। यह जानकर उनके होश फाख्ता हो गए। 'साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट' की एक रिपोर्ट के अनुसार पॉल का कहना है कि वह कई बार नीरव मोदी से मिले थे और उनकी मुलाकातें दोस्ती में बदल गईं।

इस दौरान नीरव ने उनको अपने बारे में सब कुछ बताया, जिसके कारण पॉल को नीरव पर भरोसा हो गया। जब पॉल को पता चला कि नीरव एक हीरा कारोबारी हैं, तो उन्होंने उनको अपनी मंगेतर के लिए बेहतरीन अंगूठी बनाने के बारे में बात की। पॉल ने बताया कि उन्हें नीरव के बैंक घोटाले में शामिल होने की जानकारी नहीं थी।

इसके बाद नीरव ने पॉल को अपने झांसे में ले लिया और कहा कि उनके यहां बनने वाली अंगूठियां दुनिया की सबसे बेशकीमती अंगूठियों में शामिल हैं। नीरव ने पॉल को अंगूठियों के असली होने का सर्टिफिकेट देने की बात भी कही। पॉल के मुताबिक, उन्होंने जो पहली अंगूठी खरीदी वो 3.2 कैरेट की थी और उसकी कीमत करीब एक लाख बीस हजार डॉलर थी।

इसके बाद नीरव ने उन्हें एक और 2.5 कैरेट की अंगूठी खरीदने की पेशकश की, जिसकी कीमत 80 हजार डॉलर थी। इसके बाद पॉल ने दोनों अंगूठियों को खरीदा। मगर, अब उनको पता चला है कि नीरव ने उन्‍हें ठग लिया। ये दोनों अंगूठियां नकली हैं।