देहरादून। लोकसभा चुनाव के सातवें और आखिरी चरण के चुनाव के लिए रविवार 19 मई को मतदान हो रहा है। इस बीच पीएम मोदी ने बद्रीनाथ मंदिर में दर्शन और पूजा की। मंदिर से बाहर निकलकर उन्होंने हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन किया। यहां से वह दोपहर में देहरादून के लिए रवाना होंगे।

इससे पहले शनिवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रुद्र गुफा से ध्यानकर बाहर निकले थे। उस समय यहां चार डिग्री सेल्सियस तापमान था। उन्होंने मंदाकिनी नदी के किनारे बैठकर उसके कल-कल बहते पानी के शोर को सुना और पहाड़ों पर जमी बर्फ को निहारा।

मीडिया से मुखातिब होते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बहुत दिनों के बाद गुफा में बैठने का मौका मिला। हिंदुस्तान के वातावरण से दो दिन अगल रहा। कल से मैं गुफा में रहने एकांत के लिए चला गया था। उस गुफा से 24 घंटे बाबा दर्शन किए जा सकते हैं। वर्तमान में क्या हुआ मैं उससे बाहर था, अपने आप में था। दो दिन का आराम मिला, इसके लिए चुनाव आयोग का आभार।

मोदी ने कहा कि भगवान के चरणों में आने के बाद मैं कुछ मांगता नहीं हूं। भगवान ने आपको मांगने योग्य नहीं देने योग्य बनाया है। उन्होंने कहा कि विकास का मेरा मिशन, प्रकृति पर्यावरण और पर्यटन।

आज वह बद्रीनाथ धाम में जाएंगे। बताते चलें कि वह शनिवार सुबह पारंपरिक गढ़वाली वेश-भूषा धारण कर केदारनाथ धाम पहुंचे थे। कमर में भगवा गमछा बांधे और सिर पर पहाड़ी टोपी पहने पीएम ने केदारनाथ मंदिर में करीब आधा घंटा पूजा-अर्चना की। शांति पाठ के साथ शुरू हुई पूजा, रुद्राभिषेक के साथ खत्म हुई।