नई दिल्ली। राफेल सौदे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले और लोकसभा में हुई लंबी बहस के बावजूद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस मुद्दे को छोड़ने के लिए तैयार नहीं हैं। इस मामले में मोदी सरकार पर अपना हमला और तेज करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने शनिवार को कहा कि राफेल सौदे पर संसद में उन्होंने जो सवाल उठाए, उसे हर भारतीय को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रियों से पूछना चाहिए।

राहुल ने ट्वीट किया है, 'रक्षा मंत्री संसद में दो घंटे बोलीं लेकिन वह मेरे दो सवालों के जवाब नहीं दे सकीं।' उन्होंने इसके साथ संसद में रक्षा मंत्री से पूछे गए दो सवालों का वीडियो भी पोस्ट किया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने सवाल किया था कि राफेल सौदे में अनिल अंबानी को ऑफसेट कांट्रैक्ट किसने दिया और प्रधानमंत्री जब सौदे की 'बाइपास सर्जरी' कर रहे थे तब क्या रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने आपत्ति उठाई थी।

उन्होंने इन दोनों सवालों पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से हां या ना में जवाब देने की मांग की थी। राहुल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर वीडियो पोस्ट करते हुए कहा है, 'इस वीडियो को देखें और शेयर करें। हर भारतीय प्रधानमंत्री और उनके मंत्रियों से ये सवाल पूछे।' अपने ट्वीट के साथ कांग्रेस अध्यक्ष ने हैशटैग '2सवाल दो जवाब' का इस्तेमाल किया है।

मालूम हो कि राफेल सौदे को लेकर लोकसभा में हुई बहस पर शुक्रवार को सरकार की ओर से जवाब देते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस पर 'झूठ' फैलाने का आरोप लगाया था। साथ ही कहा कि बोफोर्स एक घोटाला था, जिससे कांग्रेस पार्टी को सत्ता गंवानी पड़ी जबकि राफेल सौदा मोदी सरकार की सत्ता कायम रखने में मदद करेगा।

रक्षा मंत्री ने अपने दो घंटे के भाषण में कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उसने अपने शासनकाल में इसलिए कांट्रैक्ट नहीं होने दिया, क्योंकि उसे पैसे नहीं मिले। कांग्रेस का आरोप है कि फ्रांस से 36 राफेल लड़ाकू जेट विमान खरीदी में भ्रष्टाचार हुआ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने यह सौदा पूर्ववर्ती सरकार के दौरान होने वाले सौदे से अधिक दाम में किया है। सौदे में सरकार पर उद्योगपति अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने का भी आरोप है। लेकिन सरकार और अनिल अंबानी शुरू से ही कांग्रेस के इन सारे आरोपों को खारिज करते रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए उन्हें एक अक्षम आदमी करार दिया। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री किसी की नहीं सुनते हैं। भाजपा के शासन में किसान परेशान कांग्रेस अध्यक्ष ने गुजरात के एक गांव में किसानों और पुलिस के बीच टकराव को लेकर भाजपा सरकार को कठघरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि भाजपा शासन में किसान परेशान हैं।