नई दिल्ली। पहाड़ों पर एकबार फिर बर्फबारी शुरू हो गई है। जिसका असर मैदानी इलाकों में भी दिखाई दे रहा है। शुक्रवार को कश्मीर और उत्तराखंड में एक बार फिर हिमपात का सिलसिला शुरू हो गया। ताजा बर्फबारी से हवाई यातायात पर तो कोई प्रभाव नहीं पड़ा, लेकिन जम्मू-श्रीनगर हाईवे एक बार फिर बंद होने से घाटी का देश के अन्य हिस्सों से सड़क संपर्क कट गया।वहीं, उत्तराखंड में भी मौसम विभाग ने शनिवार को उत्तरकाशी, चमोली और पिथौरागढ़ में भारी बर्फबारी के आसार जताए हैं।

कश्मीर में बर्फबारी शुरू

कश्मीर में मौसम के मिजाज गुरुवार देर शाम ही बिगड़ गए और उधापर्वतीय इलाकों समेत मैदानी इलाकों हिमपात शुरू हो गया। शुक्रवार को जब लोग नींद से जागे तो एक बार फिर हर तरफ करीब तीन इंच मोटी बर्फ की चादर बिछी थी। वहीं, गुलगर्म, सोनमर्ग, पहलगाम, साधनापास और ऊपरी इलाकों में यह चादर आठ से दस इंच मोटी थी। बर्फबारी के चलते श्रीनगर में न्यूनतम तापमान -1.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान -2.1, पहलगाम में -2.2 डिग्री रहा। -

उत्तराखंड में एडवाइजरी जारी

उत्तराखंड में मौसम के मिजाज को देखते हुए शासन ने एडवाइजरी जारी की है। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार को उत्तरकाशी, चमोली और कुमाऊं के पिथौरागढ़ में भारी बर्फबारी के आसार हैं। शासन ने इन जिलों में ऊंचाई वाले इलाकों की यात्रा टालने की सलाह दी है। इसके अलावा ऐसे इलाकों में रहने वाले लोगों को भी एक-दो दिन के लिए निचले स्थानों पर शिफ्ट होने को कहा है।

बारिश व बर्फबारी के आसार

प्रदेश में एक बार मौसम फिर कड़े तेवर दिखाएगा। शनिवार को किन्नौर, लाहुल स्पीति, शिमला, कुल्लू, मनाली, मंडी व सिरमौर की ऊंची पहाड़ियों में फिर से भारी बर्फबारी और मध्यम व निचले क्षेत्रों में बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने 15 जनवरी तक पश्चिमी हवाओं के सक्रिय रहने की संभावना जताई है।

ठंड बढ़ी, दिल्ली में आज हो सकती है बारिश

दिल्ली में शुक्रवार को ठंड फिर बढ़ गई। इसके साथ ही प्रदूषण के स्तर में भी इजाफा हो गया। इससे दिल्लीवासियों को दोहरी मुसीबत का सामना करना पड़ा। आज प्रदूषण की स्थिति और खराब हो सकती है। हालांकि शाम से बादल छाएंगे और रात के समय बूंदाबांदी की उम्मीद है। ऐसे में बारिश होने पर प्रदूषण से राहत की उम्मीद है। शुक्रवार को दिल्ली में न्यूनतम तापमान महज 4.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।