श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में मंगलवार सुबह श्रीनगर के बीएसएफ कैंप पर हुए फिदायीन हमले के बाद अब मुठभेड़ खत्म हो गई है। इस हमले में जहां बीएसएफ के एक एएसआई शहीद हो गए हैं वहीं सेना ने तीन आतंकियों को मार गिराया है।

इसकी जानकारी देते हुए जम्मू-कश्मीर के आईजी मुनीर खान ने मीडिया को बतााया कि आतंकी अधेरे का फायदा उठाते हुए घुसे थे और यह हमला एयरपोर्ट पर नहीं हुआ था। इस हमले में बीएसएफ के एएसआई शहीद हुए हैं। खान ने मीडिया नसीहत देते हुए कहा कि कई न्यूज चैनल्स ने खबर चलाई थी की यह आतंकी हमला एयरपोर्ट पर हुआ था। मैं कहना चाहता हूं कि मीडिया थोड़ी संजिदगी दिखाए। जब तक पाक हमारा पड़ोसी है इस तरह के हमले होते रहेंगे।

बता दें कि इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ने ली है। खबरों के अनुसार 3-4 की संख्या में आए आतंकियों ने अलसुबह 4.30 बजे के आसपास श्रीनगर एयरपोर्ट के पास स्थित बीएसएफ की 182 बटालियन के कैंप को निशाना बनाया। इसे गो-गो लैंड के नाम से जाना जाता है।

आतंकी वहां मौजूद इमारत में घुसने की फिराक में थे लेकिन मुस्तैद जवानों ने उनके इरादे नाकाम कर दिए। इसके बाद आतंकियों को जवानों ने एक दूसरी इमारत में घेर लिया है। फिलहाल मुठभेड़ जारी है। हमले के चलते श्रीनगर एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया है।

बता दें कि सोमवार को पाकिस्तान की तरफ से लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया जा रहा था और इस बीच सीमा पर कुछ आतंकियों ने घुसपैठ की कोशिश की थी जिसे नाकाम कर दिया गया। इस दौरान मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने पांच आतंकियों को मार गिराया था।