नई दिल्ली। UNSC में आतंकवादी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने के मामले में एक बार फिर चीन द्वारा पाकिस्तान का समर्थन किए जाने से भारत को बड़ा झटका लगा है। इसी बीच अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(RSS) के आर्थिक संगठन स्वदेशी जागरण मंच ने पीएम नरेंद्र मोदी से मांग की है कि चीन को भारत की तरफ से दिया गया 'मोस्ट फेवर्ड नेशन' का दर्जा छीन लिया जाए।

स्वदेशी जागरण मंच की ओर से पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर मांग की गई है कि भारत को चीन से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लेना चाहिए। चीनी उत्पादों पर ज्यादा प्रतिबंध लगाए जाना चाहिए। सभी उत्पादों पर टैरिफ ड्यूटी बढ़ाई जाना चाहिेए।

मंच ने कहा कि अब वक्त आ गया है कि चीन को सबक सिखाने के लिए भारत डिप्लोमेटिक और आर्थिक तौर पर सभी जरुरी कदम उठाए।

स्वदेशी जागरण मंच के अखिल भारतीय सह संयोजक अश्विनी महाजन ने कहा कि चीन से होने वाले आयात को लेकर सख्त रुख अपनाने की जरुरत है। ग्रुप की रिसर्च में सामने आया है कि चीनी उत्पादों पर लगने वाला एवरेज टैरिफ अलग अलग कमोडिटीज में बेहद कम है।

महाजन ने कहा कि सरकार को इस मामले में तत्काल एक्शन लेना चाहिए। यूएस से चल रहे ट्रेड वॉर की वजह से चीन पहले से ही आर्थिक तनाव झेल रहा है। उन्होंने कहा कि भारत का ये एक्शन हमारे और वैश्विक स्तर पर आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में मदद करेगा।