पटना। उपचुनाव में बिहार में तीन में से दो सीटें झटक लेने के बाद उत्साहित बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि अब साबित हो गया कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद की विचारधारा खत्म नहीं हो सकती। राजद प्रमुख को जेल भेजकर जो लोग समझ रहे थे कि उन्होंने एक विचारधारा का अंत कर दिया तो यह उनकी भूल थी। लालू प्रसाद नेता नहीं, विचारधारा का नाम है।

दिल्ली से लौटने के बाद बुधवार को तेजस्वी ने प्रेस कांफ्रेंस कर राजद का जनता के साथ अटूट गठबंधन बताया और भाजपा-जदयू गठबंधन को अवसरवादी करार दिया। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की जीत के लिए तेजस्वी ने अखिलेश यादव को फोन करके बधाई दी। अररिया लोकसभा एवं जहानाबाद विधानसभा सीट पर राजद प्रत्याशियों की जीत के लिए तेजस्वी ने जनता के प्रति आभार जताया और कहा कि उपचुनाव के नतीजे ने साबित किया है कि जेल में लालूजी नहीं, बल्कि एक विचारधारा को कैद किया गया है।

यही विचारधारा सत्तारूढ़ दलों के अहंकार को चूर करेगी। तेजस्वी ने कहा कि हमने जनता की अदालत में विनम्रता से अपनी बात रखी थी। जनता ने हमें शक्ति प्रदान की। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार गठबंधन तोड़कर जिस राजग के साथ गए थे, जनता ने उसका जवाब दे दिया। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को निशाने पर लेते हुए तेजस्वी ने कहा कि कई तरह के घोटालों में फंसे होने के बावजूद उनके खिलाफ कोई कार्रवाई या जांच नहीं हो रही है।

तेजस्वी ने आशंका जताई कि बिहार व उत्तर प्रदेश में पराजय के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के संकेत पर प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआइ हमारे परिवार के खिलाफ और सक्रिय हो जाएगी। तेजस्वी ने जीत के लिए अपने गठबंधन में आए पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी का भी आभार प्रकट किया। मौके पर मौजूद मांझी ने कहा कि भाजपा अगर नहीं सुधरी तो उसे 2019 में ऐसे ही नतीजों का सामना करना पड़ेगा।

जितनी साजिश होगी, मेरी लालटेन उतनी ही जलेगी : लालू

बिहार के उपचुनाव में राजद को मिली बड़ी सफलता से गदगद राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने अपने विरोधियों पर करारा हमला किया है। बुधवार को लालू के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट किया गया कि षडयंत्र और साजिश का कड़वा तेल जितना हमपर फेकोगे हमारी लालटेन उतनी ही धधक के साथ जलेगी। विदित हो कि लालू फिलहाल चारा घोटाले में जेल में बंद हैं।