जम्मू। केंद्र सरकार के रमजान माह में जम्मू-कश्मीर में एकतरफा संघर्ष विराम की घोषणा के बीच आतंकियों ने दक्षिण कश्मीर में दो जगह सेना पर हमले किए। दोनों हमलों में सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई के बाद आतंकी भाग निकले। वहीं, श्रीनगर के डाउन टाउन में हुए ग्रेनेड हमले में तीन लोग घायल हो गए, जबकि देर शाम को जम्मू संभाग के कठुआ के हीरानगर और सेक्टर में पाक ने कई भारतीय चौकियों और रिहायशी क्षेत्रों में भारी गोलाबारी की।

शोपियां के जामनगरी गांव में एक बाग में छिपे आतंकवादियों ने बुधवार दोपहर बाद तलाशी अभियान चला रही सेना पर गोलीबारी शुरू कर दी। सेना ने मोर्चा संभाल जब कार्रवाई की तो आतंकी भाग निकले। आतंकवादियों की धरपकड़ के लिए सेना ने क्षेत्र में घेरा डालकर तलाशी अभियान छेड़ा है।

इससे पहले सुबह साढ़े आठ बजे त्राल के शिकारगढ़ जंगल में आतंकवादियों ने सेना की 42 राष्ट्रीय राइफल्स के जवानों पर गोलियां चलाईं। सेना की जवाबी कार्रवाई करने के बाद आतंकी मौके से भागने में कामयाब हो गए हैं। चंद मिनट तक चली इस मुठभेड़ में फिलहाल किसी सैनिक के घायल होने की कोई सूचना नही है।

आतंकवादियों की गोलीबारी के बाद सेना, सुरक्षाबलों की कई अतरिक्त टुकड़ियों को शिकारगढ़ के जंगलों व जामनगरी गांव में भेजकर क्षेत्र को घेर लिया है। सेना, सुरक्षा बल क्षेत्र को खंगाल रहे हैं।

वहीं, श्रीनगर के डाउन टाउन इलाके छत्ताबल में आतंकियों के ग्रेनेड हमले में छह वर्षीय बच्चे समेत तीन लोग घायल हो गए। शाम चार बजे सब्जी मंडी के निकट आतंकवादियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के एक वाहन को निशाना बनाकर ग्रेनेड फेंका। लक्ष्य से चूककर ग्रेनेड सड़क पर फट गया। वहां से गुजर रहे लोग इसकी चपेट में आ गए।

घायलों की पहचान 35 वर्षीय मंजूर अहमद मीर, छह वर्षीय जुनैद अहमद व शहनाज जान के रूप में हुई है। इसी छत्ताबल इलाके में गत दिनों सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए थे।

लश्कर ने संघर्ष विराम को ड्रामा बताया -

आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तोयबा ने केंद्र सरकार के संघर्ष विराम को ड्रामा करार देते हुए इसे मानने से इन्कार कर दिया है। लश्कर के प्रवक्ता डॉ. अब्दुल्ला गजनवी ने श्रीनगर में जारी बयान में कहा है कि इस समझौते को स्वीकार नहीं किया जा सकता है। संघर्ष विराम के लिए कोई जगह नहीं है।

पाक गोलीबारी की आड़ में फिर घुसपैठ का प्रयास-

पाक रेंजरों ने बुधवार देर शाम हीरानगर और सांबा सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गोलीबारी की आड़ में घुसपैठ करवाने का प्रयास किया। सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तान को मुंह तोड़ जबाव दिया। गोलाबारी में जान व माल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे गांवों में दहशत का माहौल व्याप्त हो गया है।

सांबा सेक्टर के कटाऊ पोस्ट पर देर शाम साढ़े सात बजे से लेकर साढ़े नौ बजे तक सीमा पार से भारी गोलीबारी की गई। आतंकियों को भारतीय क्षेत्र में धकेलने के मकसद से पाक गोलाबारी कर रहा है।

हीरानगर के बोबिया, लोंडी, कटोय, मुट्ठी सहित कई गांवों में पाक रेंजर्स रुक-रुक कर गोलीबारी कर रहे हैं। रात 12 बजे तक जारी रही। विगत दिवस पाकिस्तानी गोलाबारी में बीएसएफ का जवान देवेंद्र सिह शहीद हो गया था। अंतरराष्ट्रीय सीमा तथा नियंत्रण रेखा पर चौकसी बढ़ा दी गई।

श्रीनगर में पुलिसकर्मी से राइफल छीन भागे आतंकी-

कश्मीर विश्वविद्यालय के निकट ड्यूटी कर रहे एक पुलिसकर्मी की राइफल छीन आतंकी फरार हो गए। जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने पूरा इलाका सील कर आतंकियों की तलाश शुरू दी है।

बुधवार दोपहर को हजरतबल दरगाह के पास कश्मीर विवि में डेपुटेशन पर तैनात आर्म्ड पुलिस के जवान पर रूमी गेट के पास कुछ आतंकियों ने अचानक धावा बोल दिया। इससे पहले वह संभलता आतंकवादी उसकी सर्विस राइफल छीन कर वहां से भाग निकले। पुलिस अधिकारियों के अनुसार आतंकवादियों की पहचान की जा रही है। क्षेत्र में तलाशी अभियान जारी है।