नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई विशेष अनुमति याचिका खारिज कर दी गई है। जिसके बाद केंद्र सरकार को दिल्ली उच्च न्यायालय के निर्णय पर अमल करना होगा। सूत्रों के अनुसार केंद्र सरकार दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश को मई के अंत तक लागू कर देगी।

जिसके बाद केंद्रीय सुरक्षा बलों के जवानों की सेवानिवृति की उम्र अब बढ़कर 60 साल हो जाएगी। मौजूदा दौर में आयु सीमा अभी यह आयु 57 साल है। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने दस मई को केंद्र की विशेष अनुमति याचिका खारिज कर दी थी।

याचिका में कहा गया था कि मामला नीतिगत है और इस पर कोर्ट को निर्णय लेने का अधिकार नहीं है।इस मामले में केंद्रीय सुरक्षा बलों के अधिकारियों की ओर से अधिवक्ता अंकुर छिब्बर ने दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी। उनका पक्ष था कि केंद्र सरकार सुरक्षा बलों में सेवानिवृति के मामले में भेदभाव कर रही है।

हांलाकि फिलहाल जवान से लेकर शीर्ष अधिकारी तक की सेवानिवृति की आयु 60 साल तक करने पर विचार हो रहा है। सरकार प्रयास कर रही है कि सभी जवानों को इसका लाभ मिले। और इस संबंध में विभिन्न प्रावधानों का अध्ययन किया जाएगा। जिससे सभी जवानों को उचित फायदा मिले।