नई दिल्ली। भारतीय मौसम विभाग ने शुक्रवार तक मौसम खराब रहने की संभावना जताई है। इस बाबत बुधवार को अलर्ट जारी किया गया। इस दौरान दिल्ली सहित उत्तर भारत के इलाकों में तेज आंधी और बारिश हो सकती है।

वहीं मंगलवार को आधी रात के बाद आई आंधी ने एक बार फिर उत्तर भारत सहित दिल्लीवासियों को झकझोर दिया। आंधी के कारण हुए हादसों में दिल्ली में एक, बंगाल में सात और हरियाणा में दो की मौत हो गई।

बता दें कि मौसम विभाग ने इस आंधी को लेकर किसी तरह की चेतावनी भी जारी नहीं की थी। रात करीब तीन बजे एसएमएस के जरिये जरूर एक अलर्ट जारी किया गया कि अगले तीन घंटे तक आंधी चलेगी, जिसमें हवाओं की गति 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रहेगी।

रात 3.01 से 3.30 बजे के दौरान हवा की गति भी काफी अधिक रही। इस दौरान सफदरजंग में 98 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली। आंधी का यह दौर गुरुवार रात भी जारी रह सकता है। विभाग के अनुसार 50 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी।

वेदर रिस्क मैनेजमेंट सर्विस के मौसम पूर्वानुमान विशेषज्ञ कांति प्रसाद बताते हैं कि प्री मानसून सीजन में इस तरह के आंधी तूफान पूर्व के वर्षों में भी आते रहे हैं। इनकी संख्या और तीव्रता घटती व बढ़ती रहती है।

ये जलवायु और मौसम चक्र का ही हिस्सा है। इस साल मई माह में पश्चिमी विक्षोभों की भी सक्रियता औसत से अधिक है। इसी कारण आंधी-तूफान ज्यादा आ रहे हैं।

दिल्ली में एक की मौत और 14 घायल : दिल्ली में मंगलवार को आधी रात में आई आंधी में एक युवक की मौत हो गई। वहीं 14 लोग इस तरह के हादसों के कारण जख्मी हो गए। इस आंधी में करीब 59 पेड़ गिर गए, वहीं बिजली के 11 खंभे भी जमींदोज हो गए।

बंगाल में वज्रपात से सात की मौत : बुधवार को बंगाल के विभिन्न जिलों में तूफान व बारिश के दौरान वज्रपात से सात लोगों की मौत हो गई। वहीं इन घटनाओं में नौ से ज्यादा लोगों के जख्मी होने की सूचना मिली है। नदिया में चार, उत्तर 24 परगना में दो, बांकुड़ा में एक जबकि पुरुलिया जिले में एक शख्स की मौत हुई है।

हिमाचल में पारा 40 पार : हिमाचल प्रदेश में दो दिन से अधिकांश स्थानों पर लोगों को बारिश से राहत मिली है, परंतु धूप खिलने से तापमान एक बढ़ गया है।

बुधवार को प्रदेश का अधिकतम तापमान फिर 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। हालांकि प्रदेश बुधवार को भी प्रदेश के कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हुई है। राज्य में कुछ दिनों में कई स्थानों पर बारिश की संभावना है।

हरियाणा में 100 से अधिक बिजली के पोल गिरे : हरियाणा में भी कई स्थानों पर आंधी, तेज बरसात और ओलावृष्टि से जन जीवन बुरी तरह प्रभावित रहा। आंधी के कारण बिजली के 100 से अधिक पोल गिर गए, जबकि कई जिलों में पेड़ भी उखड़कर गिर गए।

रोहतक में तूफान की चपेट में आकर युवक तीसरी मंजिल से नीचे गिर गया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं हिसार में बिजली गिरने से जैसलमेर निवासी युवक रमजान की मौत हो गई।