नवनिर्वाचित विधायकों के शपथ ग्र्रहण में तृणमूल-भाजपा की ओर से हुई नारेबाजी -आठ सीटों के उपचुनाव में निर्वाचित हुए हैं भाजपा के चार विधायक जागरण संवाददाता,

कोलकाता। लोकसभा में शपथ ग्रहण के दौरान पश्चिम बंगाल के नवनियुक्त सांसदों ने जय श्री राम के नारे लगाए थे। अब पश्चिम बंगाल विधानसभा में भी ऐसा हुआ। बुधवार को विधानसभा में नवनिर्वाचित भाजपा विधायकों ने शपथ लेने के बाद जय श्री राम का नारा लगाया। हालांकि इसके जवाब में टीएमसी विधायकों ने 'जय हिंद' का नारा लगाया। इस नारेबाजी पर विधानसभा स्पीकर ने भी नाराज जताई। बता दें, लोकसभा चुनाव के साथ पश्चिम बंगाल में आठ विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव हुए थे। बुधवार को नवनिर्वाचित विधायकों ने शपथ ली। शपथ लेने के बाद हबीबपुर से भाजपा विधायक जेयेल मुर्मु ने जय श्री राम का नारा लगाया। इनके समर्थन में भाजपा के अन्य विधायकों ने भी जय श्री राम का नारा बुलंद किया।

भाजपाई विधायकों की इस नारेबाजी पर टीएमसी विधायकों ने आपत्ति ली। इसके बाद जब बारी उलबेड़िया पूर्व से विधायक इद्रिश अली की आई तो उन्होंने शपथ के बाद जय हिंद का नारा लगाया। विधानसभा स्पीकर विमान बनर्जी ने इस दौरान कहा कि नियमानुसार, विधायक सदन में नारेबाजी नहीं कर सकते, पहले ही विधायकों को इसकी जानकारी दी गई है।

बाद में जयेल मुर्मु ने सफाई दी कि उन्होंने जानबूझ कर कुछ नहीं कहा, बल्कि शपथ लेने के बाद उनके अंदर से जय श्री राम की ध्वनि निकल पड़ी, और ईश्वर का नाम लेने में कोई बुराई नहीं है। वहीं इद्रिश अली ने कहा कि जय हिंद तो पूरे देश में बोला जाता है।

बंगाल में विधानसभा की जिन आठ सीटों के लिए उपचुनाव हुए उनमें चार सीटों पर भाजपा को जीत मिली है। वहीं तृणमूल के खाते में 3 और कांग्रेस के खाते में एक सीट गई। अब सदन में भाजपा विधायकों की संख्या बढ़ कर छह हो गई है।