लखनऊ। उत्तर प्रेदश में 6 पूर्व मुख्यमंत्रियों को सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी कर 15 दिन में सरकारी आवास खाली करने के निर्देश दिए हैं। इसी मामले में पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह हाल ही में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले थे। इस दौरान उन्होंने सीएम योगी को अपना आवास बचाने का फॉर्मूला बताने वाला पत्र सौंपा था। यही पत्र अब सोशल मीडिया में वायरल हो गया है और इसके चलते दो अधिकारी पद से हटा दिए गए हैं।

जानकारी के अनुसार मुलायम का पत्र लीक करने के अरोप मुख्यमंत्री ने सख्त कदम उठाते हुए अपने निजी सचिव पितांबर याद और मुख्य सचिव के पीए शशिपाल को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के दस दिन बाद राज्य संपत्ति विभाग ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को उनके महल जैसे बंगले खाली करने की नोटिस दे दी। उन्हें 15 दिन का मौका दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने अखिलेश सरकार के बनाये हुए कानून को खारिज करते हुए ये बंगले खाली करने का फैसला सुनाया था।

अब नारायण दत्त तिवारी, कल्याण सिंह, राजनाथ सिंह, मुलायम सिंह यादव, मायावती और अखिलेश यादव को अपने बंगले छोडऩे पड़ेंगे। इन्हें इन बंगलों में जीवनभर रहने का अधिकार मिला हुआ था। राज्य संपत्ति अधिकारी योगेश कुमार शुक्ल ने बताया कि सभी को नोटिस दे दी गई है। कल्याण सिंह इस समय राजस्थान के राज्यपाल हैं, जबकि राजनाथ सिंह केंद्रीय गृहमंत्री हैं।