मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। मकर संक्रांति पर सूर्य धनु से मकर राशि में प्रवेश करेंगे। सूर्यदेव के मकर पर संचरण के साथ ही अगली सुबह यानी 15 जनवरी को मकर संक्रांति जन्य पुण्य काल मनाया जाएगा।

स्नान-दान का यह पर्व इस बार 15 जनवरी को मनाया जाएगा होगा। दीर्घायु, आरोग्य, धन, धान्य, प्रतिष्ठा के कारक सूर्य देव के उत्तरायण होते ही मांगलिक कार्यों की शुरुआत हो जाएगी। आइये जानते हैं इस बार मकर संक्रांति का बारह राशियों के जीवन पर क्‍या प्रभाव पड़ेगा।

ज्योतिषाचार्य सुशांत राज ने बताया कि मकर संक्रांति 14 जनवरी को शाम 7 बजकर 50 मिनट पर शुरू हो रही है। इसलिए अगले दिन यह पर्व मनाया जाएगा।

मेष: मेष राशि वालों को कार्यस्‍थल पर सम्‍मान मिलेगा। उनके दसवें घर में सूर्य का संचार होने से नौकरी में उन्‍हें लाभ मिलेगा।

वृष: सूर्य अब मकर राशि में प्रवेश कर चुका है, इसका लाभ भी मिलेगा। मेहनत से किए गए कार्यों का अब लाभ मिलने का समय आ गया है।

मिथुन: मिथुन राशि वाले जातकों को इलेक्ट्रिसिटी, आग आदि से बचकर रहना होगा। मिथुन राशि के आठवें घर में सूर्य का संचार होने से जोखिम की संभावनाएं बढ़ गई हैं।

कर्क: गृहस्‍थ जीवन वालों के लिए थोड़ा प्रतिकूल समय हो सकता है। घर-परिवार के मामलों में परेशानी हो सकती है, हालांकि शत्रु पक्ष आपको नुकसान नहीं पहुंचा पाएगा।

सिंह: सिंह राशि वालों को अपने स्‍वास्‍थ्‍य का ध्‍यान रखना होगा। जिन जातकों के कोर्ट-कचहरी के मामले चल रहे हैं, उन्‍हें छठे घर में सूर्य का प्रवेश होने से आशानुरूप बेहतर परिणाम मिलेंगे। हां, स्‍वास्‍थ्‍य की अनदेखी ना करें।

कन्या: जिन लोगों को लंबे समय से संतान की इच्‍छा थी, वह अब पूरी हो सकती है। हालांकि प्रेम प्रकरणों के लिए यह समय अनुकूल नहीं है, इसलिए इस दिशा में प्रयास ना ही करें तो बेहतर।

तुला: तुला राशि वालों के लिए यह संक्रांति शुभ समाचार लाई है। चौथे घर में सूर्य का प्रवेश होने से ज़मीन-जायदाद के कामों में सफलता मिलेगी और भौतिक सुविधाओं में भी इज़ाफा होगा।

वृश्चिक: वृश्चिक राशि के जातकों को छुपे हुए शत्रुओं से निजात मिलेगी। कार्यस्‍थल पर भी उनका मान-सम्‍मान बढ़ेगा।

धनु: वित्‍तीय मामलों में तेजी आएगी, इससे लाभ मिल सकता है। लंबे समय से चली आ रही कुछ परेशानियों का अब अंत हो सकता है।

मकर: मकर राशि में ही सूर्य का प्रवेश होने से संक्रांति होती है। हालांकि मकर राशि वालों का आत्‍मबल क्षीण पड़ सकता है, इसलिए वे हीन अनुभव कर सकते हैं। क्रोध पर नियंत्रण रखें।

कुंभ: सूर्य का संचार इस राशि के बारहवें घर में हो रहा है। यह इस बात का प्रतीक है कि अब धार्मिक एवं शुभ-मांगलिक कार्य किए जा सकते हैं। हालांकि इसके लिए व्‍यय की तैयारी रखना होगी।

मीन: मीन राशि वालों के लिए अच्‍छा समय आ रहा है। ग्‍यारहवें घर में सूर्य का संचार हो रहा है, इसका अर्थ यह हुआ कि अब आय में इज़ाफा होने जा रहा है।