कोहिमा। गठन के 54 वर्ष बाद भी नगालैंड में एक भी महिला विधायक नहीं बन सकी है। इन 54 वर्षों में राज्य में 12 विधानसभा चुनाव हो चुके हैं। राज्य की 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए इस बार 27 फरवरी को मतदान होना है। नतीजे तीन मार्च को घोषित होंगे। चुनाव में इस बार 195 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इनमें पांच महिला उम्मीदवार हैं।

नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) ने दो और भाजपा व नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी ने एक-एक महिला उम्मीदवार को मैदान में उतारा है। एक महिला ने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में पर्चा भरा है। राज्य में सत्तारूढ़ नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) ने किसी भी महिला को टिकट नहीं दिया। एनपीएफ के अध्यक्ष शुरोजेली लीजेत्सु कहते हैं कि पार्टी की किसी भी महिला कार्यकर्ता ने चुनाव में हिस्सा लेने में दिलचस्पी नहीं दिखाई।

भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहीं राखीला पूर्व मंत्री और चार बार विधायक रहे लाकिउमोंग की पत्नी हैं। राखीला पिछला चुनाव सिर्फ 800 वोटों के अंतर से हार गई थीं।