बेंगलुरु। कर्नाटक में एक बार फिर से कुमारस्वामी सरकार के अस्थिर होने की खबरें आ रही हैं। हालांकि, खुद मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने कहा है कि विधायक उनके संपंर्क में हैं। खबरों के अनुसार राज्य के जल संसाधन मंत्री डीके शिवकुमार ने रविवार को आरोप लगाया था कि राज्य सरकार को अस्थिर करने के लिए भाजपा आपरेशन लोटस चला रही है। कांग्रेस के तीन विधायक मुंबई के एक होटल में भाजपा के कुछ नेताओं के साथ ठहरे हुए हैं।

शिवकुमार ने कहा, "राज्य में हार्स ट्रेडिंग जारी है। हमारे तीन विधायक मुंबई में एक होटल में भाजपा के कुछ विधायकों और नेताओं के साथ ठहरे हुए हैं। हमें पता है कि उनके बीच क्या बातचीत हुई है और उन्हें कितने की पेशकश की गई है।"

आपरेशन लोटस 2008 में कर्नाटक की तत्कालीन बीएस येद्दयुरप्पा सरकार की स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए विपक्ष के कुछ विधायकों को दलबदल के लिए लालच देने को कहा जाता है।

पूर्व में कांग्रेस को कई मौकों पर संकट से उबार कर प्रतिष्ठा अर्जित करने वाले शिवकुमार ने मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी पर भाजपा की तरफ झुकाव रखने का आरोप लगाया।

उनके इन आरोपों के बाद एक बार फिर से राज्य में सियासी उबाल आ गया है। मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने दावा किया है कि तीनों विधायक लगातार उनके संपंर्क में हैं। वो मुझे सूचना देने के बाद ही मुंबई गए थे और सरकार को कोई खतरा नहीं है। मुझे पता है भाजपा उनसे क्या बात कर रही है क्या ऑफर दे रही है।

वहीं उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वरा ने कहा कि भाजपा कह रही है कि हमारी सरकार गिर जाएगी लेकिन ऐसा होगा नहीं। कुछ विधायक मुंबई गए हैं लेकिन वो परिवार के साथ घूमने, मंदिरों में दर्शन करने के लिए गए हैं।

इन दावों के बीच भाजपा ने पलटवार किया है। भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने कहा है कि वो अपने हाउसेस को ऑर्डर में रखे। वो अपने विधायक नहीं संभाल पा रहे हैं और भाजपा पर उंगली उठा रहे हैं।