नई दिल्ली। गूगल और ऐपल ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अपने ऐप स्टोर से टिकटॉक ऐप को हटा दिया है। गौरतलब है मद्रास हाई कोर्ट ने तीन अप्रैल को केंद्र सरकार को ऐप के डाउनलोड पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने भी मद्रास हाई कोर्ट के आदेश को सही ठहराया था। इसके बाद सभी बड़ी तकनीकी कंपनियों ने टिकटॉक को ऐप स्टोर से बाहर करने की कार्रवाई शुरू कर दी है।

टिकटॉक को चीनी कंपनी बाइटडांस ने विकसित किया है, जो छोटे वीडियो को साझा करने की सुविधा देता है। सूत्रों के अनुसार, केंद्र सरकार ने गूगल और ऐपल को मद्रास हाई कोर्ट के आदेश के अनुपालन में टिकटॉक ऐप को प्रतिबंधित करने के लिए कहा था।

हालांकि दोनों कंपनियों ने इस संबंध में भेजी गई ई-मेल का कोई जवाब नहीं दिया, लेकिन उपभोक्ता अब ऐप स्टोर से टिकटॉक डाउनलोड नहीं कर पाएंगे। इसके बावजूद जो लोग इस ऐप को पहले डाउनलोड कर चुके हैं, वे इसका इस्तेमाल जारी रख सकते हैं। शोध फर्म टेकआर्क के संस्थापक व मुख्य विश्लेषक एफ. कावूसा ने कहा कि इस तरह के बढ़ते डिजिटल खतरे पर काबू पाने के लिए व्यापक दृष्टिकोण की जरूरत है। इन्हें तकनीक और कानूनी तरीके से खत्म नहीं किया जा सकता।