फिल्मोंं में किस्मत आजमा चुके हैं टीम इंडिया के ये क्रिकेटर्स

hiten j   |  Sat, 27 Jan 2018 02:07 PM (IST)

क्रिकेट और ग्लैमर जगत का रिश्ता पुराना रहा है। क्रिकेटर्स और एक्ट्रेसेस के रिश्तों की चर्चा तो आमतौर पर होती रहती है लेकिन कई क्रिकेटर एक्टिंग में हाथ आजमाते नजर आए हैं। युवराज सिंह इन दिनों इसी को लेकर चर्चा में है कि वे जल्द ही एक वेब सीरीज इनसाइड एज 2 में नजर आ सकते हैं। आइए जानते हैं टीम इंडिया के अन्य क्रिक्रेटर्स के बारे में जिन्होंने एक्टिंग में हाथ आजमाया है:

अजय जड़ेजा: 90 के दशक के प्रमुख खिलाड़ियों में से एक जड़ेजा का क्रिकेट करियर मैच फिक्सिंग स्कैंडल में फंसने के कारण खत्म हो गया। फिर उन्होंने फिल्मों में लक आजमाया और साल 2003 में फिल्म खेल में महत्वपूर्ण किरदार पाया। बॉक्स ऑफिस पर फिल्म बुरी तरह पीटी तो क्रिकेट कमेंट्री शुरू कर दी।

सुनील गावस्कर: इंडियन क्रिकेट टीम में खेलते हुए गावस्कर ने एक मराठी फिल्म सावली प्रेमाची में काम किया था। उन्होंने 1988 में नसीरुद्दीन शाह की मालामाल में भी कैमियो किया था।

कपिल देव: कपिल देव कुछ फिल्मों में नजर आए जिसमें इकबाल, मुझसे शादी करोगी और स्टम्पड शामिल है।

योगराज सिंह: योगराज सिंह उन दुर्लभ क्रिकेटर्स में से हैं जो कि फिल्मों में सफल हुए। युवराज सिंह के पिता योगराज ने 30 पंजाबी और 10 हिंदी फिल्में की है। भाग मिल्खा भाग में फरहान अख्तर के किरदार मिल्खा सिंह के कोच के रूप में भी उन्होंने काफी प्रशंसा पाई थी।

संदीप पाटिल: आक्रामक बल्‍लेबाजी के लिए मशहूर रहे संदीप पाटिल ने 1983 में फिल्म कभी अजनबी थे में काम किया था जिसमें उनके साथ पूनम और देबश्री रॉय भी थीं। उन्होंने फिल्म में विलेन की भूमिका की थी।

सचिन तेंडुलकर: सचिन खुद पर बनी फिल्म सचिन : ए बिलियन ड्रीम्स में नजर आए थे।

विनोद कांबली: साल 2002 में संजय दत्त और सुनील शेट्टी स्टारर फिल्म अनर्थ में काम करने किया। इसके अलावा वह रियलिटी शोज में भी नजर आए थे।

सलिल अंकोला: क्रिकेट की दुनिया में भले ही अंकोला खास न कर पाए हों लेकिन टीवी की दुनिया में जगह बनाने में कामयाब हुए। उन्होंने चाहत और नफरत शो में अभिनय किया। कुरूक्षेत्र और चुरा लिया है तुमने जैसी फिल्मों के अलावा उन्होंने शशश कोई है से लोकप्रियता पाई।