प्रणय पर्व भगोरिया की शुरुआत, फाग की मस्ती में आदिवासी समाज

hiten j   |  Wed, 14 Feb 2018 08:20 PM (IST)

निमाड़ के प्रणय उत्सव के रूप में पहचाने जाना वाला भगोरिया पर्व शुरु हो गया है। धार के सुल्तानपुर में फाग की मस्ती के साथ धुलेंडी तक चलने वाला ये त्यौहार गंगा महादेव मंदिर में भगवान की पूजा-अर्चना के साथ शुरू हुआ।

भगोरिया मेले में ढोल और मांदल की थाप पर थिरकते आदिवासी समाज के लोग।

कुर्राटी मारना आदिवासी लोगों की खास पहचान है। नाच-गाने के दौरान कुर्राटी मारती महिला।

भगोरिया मेले के दौरान हर तरफ बांसुरी की मधुर धुन आकर्षित करती है। मेले में बांसुरी बजाता बुजुर्ग।

ढोल और मांदल की थाप पर थिरकना भगोरिया पर्व की सबसे बड़ी खासियत है। फाग की मस्ती इस दौरान चरम पर है।

भगोरिया मेले में आसपास के गांव के लोग बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। 30 हजार से ज्यादा लोग मेले में पहुंच रहे हैं।