सिंगापुर की तरह इंदौर में दिखा एलईडी काइट्स का जलवा

hiten j   |  Sat, 13 Jan 2018 12:47 AM (IST)

मकर सक्रांति से दो दिन पहले इंदौर के लोग पतंगबाजी के हुनर से रूबरू हुए। शुक्रवार शाम करीब 8 बजे महालक्ष्मी ग्राउंड पर सांस्कृतिक कार्यक्रम के बीच इंटरनेशनल काइट फेस्टिवल का शुभारंभ हुआ।

फेस्टिवल के पहले दिन करीब 10 झिलमिलाती एलईडी काइट्स का प्रदर्शन किया गया। एक काइट में 180 एलईडी लगी थी, जिनका संचालन दो बैटरियों से किया जा रहा था। एक पतंग का वजन करीब दो किलो था।

एलईडी काइट्स नायलोन वाले पैराशूट के कपड़े से बनती हैं। इनको बैलेंस करने के लिए कई जगह कन्नियां बांधी जाती है।

इस दौरान यूक्रेन के आर्था और साथी कलाकारों द्वारा किए गए इजिप्ट के मशहूर तनोरा नृत्य ने आयोजन की रौनक और बढ़ा दी।

इंदौर के जुम्बा ग्रुप की डांस प्रस्तुति भी खास बन पड़ी। पतंगबाजों का हुनर देखने के लिए युवा खासे उत्साहित दिखे।

इनके अलावा बच्चों और महिलाओं ने आसमान पर उड़ती झिलमिलाती पतंगों को निहारते हुए फूड स्टॉलों पर मालवी और गुजराती व्यंजनों का लुत्फ भी लिया।

फेस्टिवल के दूसरे दिन शनिवार को अहमदाबाद के राजकोट से आए महेश चावड़ा 80 फीट की रिंग काइट उड़ाएंगे। इसे मोटी रस्सी से जीप से बांधकर उड़ाया जाता है। यह 30 फीट ऊपर जाती है। इसका वजन है 30 किलो है। महेश दस सालों से पतंग बना रहे हैं।