Menu

इन खूबसूरत थर्ड जेंडर्स ने बनाई अपनी अलग पहचान

   |  Tue, 03 Apr 2018 04:50 PM (IST)

समाज में ट्रांसजेंडर्स को अच्छी नजर से नहीं देखा जाता लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उन्हें भी भेदभाव वाले नजरिये से मुक्ति मिली है। समाज में कई ट्रांसजेंडर्स ऐसे भी मिल जाएंगे जिन्होंने अपने काम के दम पर अलग पहचान बनाई है। जानिए कौन-कौन है शामिल-

अंजलि लामा- मूल रूप से नेपाल की रहने वाली अंजलि लामा हाल में ही इंडियन फैशन शो लैक्मे फैशन वीक के दौरान रैंप वॉक कर चर्चा में आई। अंजलि को उनके परिवार द्वारा 12 साल पहले निकाल दिया गया था। यह नेपाल की पहली महिला ट्रांसजेंडर मॉडल भी हैं।

मार्विया मलिक- यह पाकिस्तान की पहली ट्रांसजेंडर न्यूज एंकर हैं। मार्विया मलिक के पास पत्रकारिता की बैचलर डिग्री है और वो इसी क्षेत्र में मास्टर्स डिग्री लेना चाहती हैं। निजी चैनल कोहिनूर न्यूज ने मार्विया मलिक को ये मौका दिया।

शानवी पोनुसामी- तमिलनाडु की रहने वाली शानवी पोनुसामी एयर इंडिया में केबिन क्रू के लिए अप्लाई कर चर्चा में आई थीं। जहां इनके अप्लीकेशन को ट्रांसजेंडर होने के कारण नकार दिया गया था। बाद में इन्हें अपने हक के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपील करनी पड़ी थी।

डेनिएला वेगा- यह ऑस्कर के इतिहास में पहली महिला ट्रांसजेंडर प्रस्तोता बनीं। इन्होंने मंच से सबको धन्यवाद देते हुए कहा कि आप सबको खुले दिल से वास्तविकता को स्वीकार करके हमें भरपूर प्यार देने के लिए धन्यवाद।

गौरव अरोरा- एमटीवी स्प‍िट्जविला 8 के प्रतिभागी गौरव अरोरा ने अपना नाम बदलकर गौरी अरोरा कर लिया। उनके ट्रांसजेंडर होने की जानकारी के बाद परिवार वालों ने भी नाता तोड़ लिया था जिसके बाद गौरी ने खुद के दम पर अपना करियर बनाया।

कोमल जगताप- यह भारत के पहले ट्रांसजेंडर बैंड की सदस्य हैं। इस बैंड का नाम 6 पैक बैंड है जिसमें 6 सदस्य हैं। इस वाई फिल्म्स ट्रांसजेंडर संगीत ग्रुप 6-पैक बैंड को सोनू निगम ने लॉन्च किया था।

महुआ- मुंबई की हार्बर लाइन पर रोज सफर करने वालों के लिए ट्रांसजेंडर महुआ की तारीफ करना आम-बात है। महुआ लोकल ट्रेन के यात्रियों से मिलने वाली धनराशि से अपनी शिक्षा पूरी करने में जुटी हैं। महुआ (38) वर्तमान में कक्षा 12वीं की परीक्षा की तैयारी कर रही हैं।