जयपुर। जयपुर के विद्याधर नगर स्थित जगदम्बा काॅलोनी में रहने वाली नौवीं कक्षा की छात्रा तनिष्का दिवाकर को ट्यूशन जाते समय अपहरण की कोशिश की गई लेकिन उसने हिम्मत दिखाकर खुद को बचा लिया। उसने अपहरण की कोशिश को विफल कर दिया। यह घटना केवल पांच से सात सेकंड की है और इस घटनाक्रम में तनिष्का सारा माजरा भांप गई और प्रेजेंस ऑफ माइंड ने उनके अपहरण को फेल कर दिया।

तनिष्का ने बताया कि बुधवार दोपहर को वह अपनी सहेली के साथ घर से कोचिंग के लिए पैदल रवाना हुई थी। कुछ दूरी पर चलने पर पीछे से बाइक सवार हेलमेट लगाए बदमाश आया और हाथ को पकड़ लिया। कुछ देर के लिए वह समझ नहीं पाई। मगर बदमाश की हरकतों को देखकर उसे अहसास हो गया कि मामला गड़बड़ है। उसने तत्काल ही खुद को संभाला और विरोध के लिए जोर से चिल्लाई। तब साथ चल रही सहेली भी डर कर कुछ दूर हो गई। इसी दौरान बदमाश ने छात्रा को पकड़ने के लिए हाथ आगे की ओर बढ़ाया तो पहले से ही सतर्क तनिष्का ने पूरा दम लगाकर उसके हाथ पर दे मारा। छात्रा की ओर से अचानक वार करने से सकपकाया बदमाश बाइक लेकर भाग गया। छात्रा ने घर जाकर परिजनों को सूचना दी। तनिष्का ने बदमाश की बाइक के नंबर देख लिए और पुलिस को बता दिए। परिजनों ने बुधवार देर शाम को विद्याधर नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।