जयपुर। अपने आश्रम में नाबालिग से यौन शोषण के आरोप में करीब पांच साल से जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद कथावाचक आसाराम के मामले में फैसला जेल में ही सुनाने की पुलिस की याचिका पर हाई कोर्ट मंगलवार को सुनवाई करेगा। हाई कोर्ट ने पिछली तारीख में आसाराम के वकील से मंगलवार तक लिखित जवाब देने को कहा था।

दरअसल, आसाराम के मामले में जोधपुर एससी-एसटी कोर्ट सात अप्रैल को सुनवाई पूरी कर चुका है और 25 अप्रैल को फैसला सुनाने की बात कही है। ऐसे में जोधपुर पुलिस को अंदेशा है कि आसाराम के समर्थकों के कारण फैसला सुनाते वक्त पंचकूला में गुरमीत राम रहीम के फैसले के समय जैसे हालात बन सकते हैं।

इसे देखते हुए ही जोधपुर पुलिस कमिश्नर अशोक राठौड़ की ओर से राजस्थान हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई थी। इसमें कहा गया है कि फैसले के दिन आसाराम को कोर्ट में बुलाने की बजाय जेल में ही फैसला सुनाया जाए।