जयपुर। राजस्थान के भरतपुर जिले में खुले आसमान के नीचे शव का पोस्टमार्टम (पीएम) किया गया। हैरान कर देने वाली बात ये है कि चिकित्सक और उनके सहयोगियों ने पोस्टमार्टम के दौरान किसी तरह का पर्दा भी नहीं लगाया था। मामला भरतपुर जिले में मेवात इलाके के जुरहरा थाना क्षेत्र के गांव सोनोखर का है।

मंगलवार को यहां के एक तालाब में संदिग्ध अवस्था में किशोर राजपूत नाम के एक व्यक्ति का शव मिला । लोगों की सूचना पर जुरहरा थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया।

इसके बाद पुलिस शव को कामां अस्पताल ले गई, जहां करीब दो घंटे तक शव गाड़ी में ही रखा रहा। दो घंटे बाद चिकित्सा अधिकारी प्रमोद बंसल आए और शव को मोर्चरी में ले जाने के बजाय गाड़ी से नीचे उतरवाकर स्ट्रैचर पर रखवा दिया।

उसके बाद खुले आसमान के नीचे ही शव का पोस्मार्टम शुरू कर दिया । ऐसे में स्थानीय लोगों ने खुले में पोस्टमार्टम करने पर अपनी नाराजगी जताई, लेकिन चिकित्सक ने साफ कह दिया कि पोस्टमार्टम कराना है तो कराओ नहीं तो मैं जा रहा हूं। इस पर लोग शांत हो गए।

सोशल मीडिया में वीडियो वायरल सड़क पर शव का पोस्टमार्टम किए जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद हरकत में आए चिकित्सा विभाग ने चिकित्सा अधिकारी बंसल से जवाब तलब किया है। इस बारे में जिला कलेक्टर से बात करने का प्रयास किया गया, लेकिन वह कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हुए।