जयपुर। अब तक यह माना जाता रहा है कि मोबाइल का आईएमईआई नंबर याद है तो खोया या चोरी गया मोबाइल भी वापस मिल सकता है, लेकिन अब बाजार में ऐसा उपकरण आ गया है जिससे मोबाइल का आईएमईआई नंबर बदला जा सकता है।

राजस्थान की अलवर पुलिस ने अलवर शहर में महंगे मोबाइल फोन की आईएमईआई बदलने वाले गैंग का भंडाफोड़ किया है। यह गैंग एक उपकरण से यह नम्बर बदल देता था। इसके बाद इन मोाबइल फोनों का उपयोग विभिन्न अपराधों मे किया जाता था।

अलवर शहर में 7 मोबाइल की दुकान पर चोरी लूट और अपराध में उपयोग में लिए गए मोबाइलों की आईएमईआई बदल कर उसे उपभोक्ता को वापस बेचा जा रहा था। इससे पुलिस को चोरी के मोबाइल को ट्रेस करना नामुमकिन हो जाता है। पुलिस ने 7 दुकानों से ऐसे चार उपकरण और 200 से अधिक मोबाइल फोन बरामद किए हैं और आधा दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी, जिसके बाद एसपी राहुल प्रकाश में एक टीम बनाकर गुप्त तरीके से जांच करवाई और उनकी निगरानी की गई।

पुलिस अधीक्षक राहुल प्रकाश के निर्देश पर अलवर के चार थानों की पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई की। जांच में सामने आया कि इस उपकरण के जरिए 1000 से 1500 रुपए लेकर आईएमईआई नम्बर बदल दिया जाता है। इसके बाद पुलिस को उस मोबाइल को ट्रेस करना असंभव हो जाता है।

पुलिस फिलहाल इन मोबाइलों की जांच करने में जुटी हुई है कि इनमें से कितने मोबाइल की आईएमईआई बदली गई है और अपराधियों से भी पूछताछ की जा रही है कि उन्होंने अब तक कितने मोबाइलों की आईएमईआई बदली है और इस नेटवर्क के साथ कहां कहां जुड़े हुए हैं।