जयपुर। लव जिहाद के नाम पर राजसमंद में हुई हत्या ने राजस्थान के दो जिलों में तनाव पैदा कर दिया है। गुरुवार को हत्यारोपी के समर्थन में उदयपुर में प्रदर्शन कर रहे हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ता बेकाबू हो गए। सड़क पर टायर जलाकर माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया। झड़प के बाद पुलिस पर पथराव कर दिया। इसके बाद पुलिस ने लाठी चार्ज कर हालात पर काबू किया।

तनाव बढ़ता देख बाजार बंद हो गए। 50 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया है। कई लोग हिरासत में हैं। राजसमंद में भी प्रदर्शनकारी सड़क पर उतरे। तनाव को देखते हुए प्रशासन ने राजसमंद और उदयपुर जिले में 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी है। सोशल मीडिया पर भी निगरानी रखी जा रही है।

मेरठ के उपदेश ने बिगाड़ा माहौल-

मेरठ निवासी हिंदू सनातन संघ का राष्ट्रीय प्रचारक उपदेश कुछ दिनों से राजसमंद और उदयपुर में समुदाय विशेष के खिलाफ सोशल मीडिया पर ऑडियो और वीडियो वायरल कर रहा था। भावनाएं भड़काने वाली बयानबाजी भी कर रहा था। आरोपी शंभूलाल के समर्थन में लोगों से एकजुट होने की अपील की थी। उसने गुरुवार को उदयपुर में रैली की घोषणा की थी।

समुदाय विशेष के प्रदर्शन में नारेबाजी-

उपदेश के वीडियो वायरल होने के बाद उदयपुर, राजसमंद जिलों में तनाव फैलने लगा। दोनों समुदाय के लोग एक-दूसरे के खिलाफ सक्रिय हो गए। उदयपुर में मंगलवार को मुस्लिम समुदाय ने प्रदर्शन किया था। आरोप है कि इस दौरान आपत्तिजनक नारेबाजी की गई। मामला बढ़ता देख उदयपुर जिला कलेक्टर विष्णु चरण मलिक ने जिले में धारा 144 लागू कर दी थी।

शंभूलाल के समर्थन में हिंदूवादी संगठन-

रोक के बावजूद गुरुवार को हिंदूवादी संगठनों ने आरोपी शंभूलाल के समर्थन में उदयपुर में रैली निकाली। रैली में शामिल लोग धार्मिंक भावनाएं भड़काने वाली पंक्तियां लिखी टी-शर्ट पहने थे। हाथों में लव जिहाद के खिलाफ बैनर ले रखा था। राजसमंद में भी हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने बल प्रयोग कर उन्हें रोक दिया।

उपदेश जयपुर में गिरफ्तार-

पुलिस ने उपदेश को उदयपुर पहुंचने से पहले ही गुरुवार को जयपुर में गिरफ्तार कर लिया। कोर्ट में पेश करने के बाद उसे जेल भेज दिया गया। उसके कई समर्थकों को भी हिरासत में लिया गया है। उपदेश की गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर उसके समर्थन में अभियान शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को टैग कर ट्वीट करने की अपील की जा रही है। उसके कुछ समर्थक थाने और जेल तक भी पहुंचे।

फेसबुक एकाउंट होंगे डिलीट : पुलिस महानिरीक्षक-

आनंद श्रीवास्तव ने फेसबुक को पत्र लिखकर भावनाएं भड़काने वालों के एकाउंट बंद करने का आग्रह किया है। सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए पुलिस ने एक विशेष सेल भी गठित किया है। सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाले दो लोगों को गिरफ्तार करने के साथ आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लिया गया है।

यह है मामला-

राजस्थान के राजसमंद जिले में छह दिसंबर को पश्चिम बंगाल निवासी अफराजुल की हत्या कर शव जला दिया गया था। आरोपी शंभूलाल रैगर ने घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था। जिसमें वह लव जिहाद के खिलाफ बयानबाजी भी करता नजर आ रहा था। पुलिस ने शंभुलाल को गिरफ्तार कर लिया था। फिलहाल रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ की जा रही है।