Naidunia
    Sunday, December 17, 2017
    PreviousNext

    राजस्थान जिहाद कांड: आरोपी बोला- मैं नहीं मारता तो वो मुझे मार देते

    Published: Fri, 08 Dec 2017 10:34 AM (IST) | Updated: Fri, 08 Dec 2017 12:08 PM (IST)
    By: Editorial Team
    murder 08 12 2017

    जयपुर। राजस्थान के राजसमंद में सामने आए हत्याकांड की चर्चा पूरे देश में है। कहा जा रहा है कि भाई ने कथिततौर पर अपनी बहन से प्यार करने वाले मुस्लिम युवक मोहम्मद अफराजुल उर्फ भुट्टू (50) को पहले कल्हाड़ी से काटा और फिर बॉडी को जला दिया।

    बहरहाल, आरोपी शम्भूलाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस पूछताछ में शंभूलाल ने कहा है कि हमारे मोहल्ले की एक लड़की को अफराजुल के परिवार का युवक भगा कर ले गया था। मैं उस लडकी को बचपन से जानता था और उसे वापस लाने में मोहल्ले वालों की मदद कर रहा था, इसलिए इन लोगों ने मुझे जान से मारने की धमकी दी थी। मैं इसे नहीं मारता तो ये लोग मुझे जान से मार देते। मेरा लडकी से कोई संबंध नहीं है। मैं उसे बस बचपन से जानता था।

    नाबालिग भांजे ने बनाया वीडियो: पुलिस महानिदेशक ओपी गल्होत्रा ने बताया कि इस घटना का वीडियो आरोपी के भांजे ने बनाया है जो 14 वर्ष का है। उसे भी हिरासत में लिया गया है। मौके पर एक छोटी बच्ची भी थी। उससे भी पूछताछ की जा रही है।

    अपने स्कूटर पर लाया था अफराजुल को: जानकारी के मुताबिक, बुधवार को शंभूलाल रैगर निर्माण कार्य कराने के नाम पर मोहम्म्द अफराजुल उर्फ भुट्टू को अपने साथ स्कूटर पर लाया और कलेक्ट्रेट से महज 700 मीटर दूर अपने खेत में पेड़ों के बीच एक सूने स्थान पर उसकी बर्बर हत्या कर दी।

    एसपी मनोज कुमार चैधरी ने बताया कि वीडियो में शंभूलाल लव जिहाद, देशभक्ति सहित कई मुद्दों पर लंबा भाषण देता दिख रहा है। वह कह रहा है कि वह अपनी बहन की बेइज्जती का बदला ले रहा है। वीडियो में बच्ची भी दिख रही है। उसने खुद ही आत्मसमर्पण करने की बात भी कही थी।

    मौके से पश्चिम बंगाल के सैयदपुर कालीचक मालदा के मोहम्मद अफराजुल का शव 80 प्रतिशत तक जला मिला। अफराजुल 20 साल से राजसमंद में भवन निर्माण ठेकेदारी करता था। वह यहां अपने भाई के साथ रहता था। उसका पूरा परिवार मालदा में ही रहता है।

    पुलिस को सिर्फ एक युवक का अधजला शव मिलने की सूचना मिली थी, जिस पर पुलिस अधिकारी पहुंचे तो खेत के कच्चे रास्ते मे क्षत-विक्षत हालत मे शव देखा। मौका-ए-वारदात के हालात देखकर पुलिस को मामला हत्या कर शव को जलाने जैसा लगा।

    यूं हुई शिनाख्त: मौके पर एफएसएल टीम, डाॅग स्क्वाड, एमओबी टीम को बुलवाया गया। पुलिस ने मृतक की शिनाख्त के लिए आसपास के लोगों को बुलवाया। जिस पर कुछ लोगों ने इसकी पहचान मोहम्मद अफराजुल के नाम पर की। इसी बीच शहर में यह वीडियो वायरल हो गया और मामला दूसरी ही दिशा में चला गया।

    सरकार की ओर से आरोपी को पकडने के लिए एसआईटी का गठन किया गया। शंभुलाल की रात भर से तलाश की जा रही थी। तलाशी के दौरान एक और वीडियो सामने आया जिसमें उसने एक मंदिर में सरेंडर करने की बात कहीं। आज सुबह शंभुलाल को मंदिर पहुंचने से पहले ही पकड़ लिया गया। इसके साथ छह अन्य संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस इसे देलवाडा थाने ले आई। जहां कड़ी सुरक्षा के बीच इससे पूछताछ की गई।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें