इंदौर। तीन युवाओं द्वारा इंदौर से शुरू किया गया स्टार्टअप विश्व की टॉप 200 वेबसाइट्स में शामिल हो चुका है। वेबसाइट्स की रैंकिंग करने वाली एलेक्सा डॉटकॉम ने विटीफीड को 200 ग्लोबल रैंक दी है। विटीफीड को यह रैंक पिछले तीन महीनों में वेबसाइट पर आने वाले यूजर्स के आधार पर दी गई है।

विटीफीड विभिन्न् विषयों पर लिखने वाले लेखकों को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म उपलब्ध करवाता है। खास बात यह है कि इस वेबसाइट को हिंदुस्तान से ज्यादा ब्रिटेन और अमेरिका में पढ़ा जाता है। वेबसाइट के करीब 45 प्रतिशत विजिटर्स यूएसए और यूके से हैं। रोजाना विटीफीड पर 50 लाख से अधिक लोग विजिट करते हैं।

वेबसाइट कंटेंट के मामले में विश्व में दूसरे स्थान पर है। शशांक वैष्णव, विनय सिंघल और प्रवीण सिंघल ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई करते हुए फर्स्ट ईयर में सिर्फ 300 रुपए की लागत से स्टार्टअप की शुरुआत की थी। विनय और प्रवीण हरियाणा के एक छोटे से कस्बे से हैं।

वहीं शशांक उज्जैन के पास स्थित बड़नगर के रहने वाले हैं। पहले इन्होंने लोगों को वेबसाइट और एप बनाकर देते थे। कॉलेज में हुई दोस्ती के बाद तीनों ने इंदौर में राइटर्स को मंच देने के लिए विटीफीड शुरू की। मार्केट ट्रंेड के मुताबिक इसका वैल्युएशन करीब 330 करोड़ रुपए है।

विटीफीड के लिए दूसरों ने खोली कंपनी

विटीफीड प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करने के लिए कई लोगों ने राइटर्स की टीम बनाकर खुद की कंपनी खोली है। इसमें वे राइटर्स से आर्टिकल लिखवाकर विटीफीड पर पोस्ट करते हैं। इसमें हिंदुस्तान के साथ विदेशों के लोग भी शामिल हैं। फिलीपिंस के रेपल ने 10 लोगों राइटर्स को लेकर एक कंपनी खोली है जो सिर्फ विटीफीड पर पोस्ट करती है। वहीं देहरादून के शिवांक जोशी ने भी ऐसी ही एक कंपनी बनाई है।

इनके साथ इंदौर से नेहा मंगवानी, हैदराबाद से सोमिन और यश जैन जैसे कई युवाओं ने विटीफीड के लिए कंपनी स्थापित की हैं। विटीफीड पर करीब 100 लोग रोजाना लिखते हैं। जबकि लिखने के लिए अब तक करीब 50 हजार राइटर्स रजिस्टर करा चुके हैं।

बनाएंगे राइटर्स कम्‍युनिटी

2-3 दिनों में ही विटीफीड का नया वर्शन लेकर आ रहे हैं। इसमें राइटर्स को रैंकिंग दी जाएगी और उन्हें कैटेगरी भी मिलेगी। हम अपने इस स्टार्टअप के जरिए राइटर्स के लिए एक पूरी कम्यूनिटी बनाना चाहते हैं। यदि कोई भी राइटर बनना चाहता है तो उसे प्लेटफॉर्म के साथ इनकम भी मिलना चाहिए। अप्रैल तक हिंदुस्तान की टॉप 50 कंपनियों में आने का लक्ष्य रखा है।

शशांक वैष्णव, फाउंडर, विटीफीड

यूके और ऑस्ट्रेलिया में टॉप 50 में

एलेक्सा द्वारा विटीफीड को विश्व में विभिन्न् देशों में रैंकिग के अनुसार 200 ग्लोबल रैंक दी गई है। इंडिया में इसकी रैंक 111 है, वहीं यूके में 37 और ऑस्ट्रेलिया में 49 रैंक के साथ यह टॉप 50 में शामिल है।

यह रैंकिंग है विभिन्न् देशों में

ग्लोबल रैंक- 200

यूएसए- 120

यूके- 37

इंडिया- 111

ऑस्ट्रेलिया- 49

कनाडा- 63