हर माता-पिता चाहते हैं कि उनके बच्चे तरक्की करें और पढ़ाई में हमेशा अव्वल रहे। लेकिन, कुछ बच्चों का पढाई में मन नहीं लगता, तो कुछ बच्चे काफी मेहनत करने के बाद भी परीक्षा में अच्छे नंबर नहीं ला पाते। प्रतिस्पर्धा के इस दौर में परीक्षा में अच्छे नंबर से पास होना बड़ा ही मुश्किल हो गया है। जो बच्चे काफी मेहनत करने के बाद भी परीक्षा में अच्छे नंबर नहीं ला पाते उनके लिए आज हम कुछ वैदिक उपाय बता रहे हैं। शास्त्रों के अनुसार इन उपायों को करने से परीक्षा में अच्छे नंबर भी प्राप्त किए जा सकते हैं।

शास्त्रों के अनुसार देवी सरस्वती की पूजा सबसे पहले भगवान श्रीकृष्ण ने की थी। स्नान, ध्यान करके आप भी मां सरस्वती की तस्वीर स्थापित करें। इसके बाद भगवान गणेश और नवग्रहों की विधिवत पूजा करें। इसके बाद माता को सिंदूर व अन्य श्रंगार की वस्तुएं चढ़ाएं फिर फूलमाला अर्पित करें। मां सरस्वती को मीठे का भोग लगाकर सरस्वती कवच का पाठ अवश्य करें। देवी सरस्वती के लिए 'श्रीं ह्रीं सरस्वत्यै स्वाहा' मंत्र का जाप करें। परीक्षा से एक हफ्ते पहले ही बच्चों को दही और मीठा खिलाना शुरू कर दें।

अलग-अलग दिन के अनुसार करें ये उपाय

सोमवार- परीक्षा में जाने से पहले दर्पण देखें और कमरे से पहले दाहिना पैर बाहर निकाले।

मंगलवार- हनुमान जी के मंदिर में गुड़ या बूंदी का प्रसाद चढ़ाएं और उनको सिंदूर लगाए।

बुधवार- घर से मीठा धनिया खाकर और भगवान गणेश का मंत्र 'ओम गं गणपत्यै नम:' पढ़ कर जाएं।

गुरुवार- माथे पर केसर का तिलक लगाकर पॉकेट में पीला रुमाल या हल्दी का एक छोटा सा टुकड़ा रखकर जाएं।

शुक्रवार- सफेद चंदन का तिलक लगाएं। घर से निकलने से पहले दही या कुछ मीठा जरूर खाए।

शनिवार- शनिदेव की प्रतिमा पर सरसों का तेल चढ़ाएं और पॉकेट में भी थोड़ी सी काली सरसों या राई रख लें।

रविवार- सूर्य को जल चढ़ाए और हलवा खाकर व खिलाकर ही घर से निकले।