मल्टीमीडिया डेस्क। भगवान राम के सबसे बड़े भक्त हनुमान को देशभर में पूजा जाता है। ईश्वर में आस्था रखने वाला हर इन्सान इस महाबली के आगे मस्तक झुकाता है। यूं तो बजरंगबली ब्रह्मचारी थे, लेकिन पौराणिक कथाओं के अनुसार, उनका एक मानस पुत्र भी था। क्या आप जानते उस मानस पुत्र का नाम? पढ़ें मकरध्वज की कहानी और हिस्सा लें हनुमानजी पर आधारित रोचक क्वीज में -

यह तब का घटनाक्रम है जब हनुमानजी अपनी पूंछ से लंका में आग लगा रहे थे। रावण की लंका को आग के हवाले करने के बाद वे अपनी पूंछ में लगी आग बुझाने के लिए नदी में उतरे। बहुत गर्मी और आग की वजह से उन्हें पसीना आ रहा था। उनके पसीने की कुछ बूंदे एक मछली के मुंह में चली गई, जिसने उनके पुत्र को जन्म दिया।

इस पुत्र का नाम था मकरध्वज। मकरध्वज भी हनुमानजी के समान ही महान पराक्रमी और तेजस्वी था उसे अहिरावण द्वारा पाताल लोक का द्वार पाल नियुक्त किया गया था।

जब अहिरावण ने श्रीराम और लक्ष्मण को बंधक बना लिया और दोनों को देवी के समक्ष बलि चढ़ाने के लिए अपनी माया के बल पर पाताल ले आया था, तब श्रीराम और लक्ष्मण को मुक्त कराने के लिए हनुमान पाताल लोक पहुंचे और वहां उनकी भेंट मकरध्वज से हुई थी।

मकरध्वज आधा वानर और आधा मछली था और स्वयं को हनुमानजी का बेटा कह रहा था। हनुमानजी को पहले आश्चर्य हुआ, लेकिन फिर उन्हें सच ज्ञात हो गया।

बाद में दोनों का युद्ध होता है और हनुमानजी अपने बेटे को हरा देते हैं, अहिरावण का वध कर राम और लक्ष्मण को मुक्त करा लेते हैं। इसके बाद वे मकरध्वज को पाताल का राजा बना देते हैं।

7 सवाल: हनुमानजी के बारे में कितना जानते हैं आप?

undefined

हनुमानजी की माता का क्या नाम था?

अंजनी

,

सीता

,

मेनका

,

अहिल्या

,

हनुमानजी किसके अवतार थे?

सूर्य

,

अग्नि

,

विष्णु

,

शंकर

,

हनुमानजी के गुरु कौन थे?

सूर्य

,

राम

,

ब्रह्मा

,

पवन देव

,

हनुमानजी को अपनी शक्तियां भूलने का शाप किसने दिया था?

नारद

,

इंद्र

,

देवता

,

ऋषि

,

हनुमानजी किसके धर्म पुत्र थे?

पवनदेव

,

सूर्यदेव

,

श्रीराम

,

शंकर

,

हनुमानजी के मानस पुत्र का क्या नाम था?

सूर्यध्वज

,

जांबालि

,

कपीश

,

मकरध्वज

,

हनुमानजी की माता अंजना का असली नाम क्या था?

सीता

,

पुन्जलिकस्थला

,

रोहिणी

,

वैष्णवी