नई दिल्ली। धन यानी लक्ष्मी...जिसके बगैर दुनिया नहीं चल सकती। हिंदू धर्म ग्रंथों में शुक्रवार का दिन धन की देवी का माना गया है। वहीं ज्योतिष विज्ञान में कई ऐसे उपाय बताए गए हैं, जिनका पालन कर लक्ष्मी को खुश किया जा सकता है। पढ़िए इसी बारे में -

- शुक्रवार को घर में लक्ष्मीजी का पूजन जरूर होना चाहिए। इसके लिए लक्ष्मीजी की प्रतिमा या तस्वीर का लाल कपड़े पर रखकर सामने घी का दीपक लगाना चाहिए। साथ ही गुलाब के फूल चढ़ाए।

- लक्ष्मीजी को घी का हलवा प्रसाद में चढ़ता है। इसलिए पूरी शुद्धता अपनाते हुए गाय के घी से यह प्रसाद तैयार करें और भोग लगाएं। बाद में यह प्रसाद खुद खाएं और गरीबों में बांटे।

- मान्यता है कि लक्ष्मीजी को पूजा के दौरान सिक्का चढ़ाने से आय के नए स्रोत बढ़ते हैं। मां लक्ष्मी के यंत्र की पूजा करन से भी यही फल मिलता है।

- ज्योतिष विज्ञान में कहा गया है कि जो लोग नौकरी की तलाश में हैं, उन्होंने लाल वस्त्र दान करना चाहिए।

- यदि ऋण लेने के बाद आप उसे चुका नहीं पा रहे हैं, तो शुक्रवार की रात्रि में ग्यारह बजे के बाद एकाग्रता से बैठकर, नेत्र बंद करके ऐसा ध्यान करें कि आपके सामने महालक्ष्मी कमलासन पर विराजमान हो और आप उनके ऊपर कमल पुष्प चढ़ा रहे हैं।

- ऐसे 108 मानसिक कमल पुष्प अर्पित करें। ऐसा करने से लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। यह उपाय हर शुक्रवार को करें। ऐसा करने से अवश्य ही आपका ऋण जल्दी उतर जाएगा।

- यह तो सभी जानते हैं कि लक्ष्मी चंचला हैं। वह किसी भी स्थान पर ज्यादा देर तक नहीं टिकती हैं। लक्ष्मीजी हमेशा विष्णु भगवान के साथ रहती हैं। इसलिए यदि इस उपाय के साथ ही विष्णु सहस्रनाम या गोपाल सहस्रनाम का पाठ करें, तो घर में विष्णु भगवान का वास और कृपा भी होती है। यदि घर में विष्णु भगवान का वास हो गया, तो लक्ष्मी जी स्वतः वहां बनी रहेंगी।