नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के सीनियर स्पिनर हरभजन सिंह एक टीवी कार्यक्रम के दौरान महिलाओं पर की गई अभद्र टिप्पणियों के लिए हार्दिक पांड्या वो लोकेश राहुल की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि इन दोनों खिलाड़ियों ने क्रिकेट की साख को दांव पर लगा दिया। इन दोनों खिलाड़ियों ने कॉपी विद करण शो में हिस्सा लिया था और टीम व महिलाओँ को लेकर काफी कुछ कह दिया था। इसकी वजह से दोनों की काफी आलोचना की जा रही है।

भारतीय कप्तान विराट ने भी उनकी कही हुई बातों को गलत करार दिया था और कहा था कि इससे टीम का कोई लेना-देना नहीं है। हालांकि इसके कुछ ही घंटों के बाद दोनों को सीओए ने निलंबित कर दिया था। भज्जी ने कहा कि हम यहां तक कि अपने दोस्तों के साथ इस तरह की बातें नहीं करते और वे सार्वजनिक तौर पर टेलीविजन पर ऐसी बातें कर रहे थे। अब लोग सोच सकते हैं कि क्या हरभजन सिंह ऐसे ही थे, क्या अनिल कुंबले ऐसे ही थे और क्या सचिन तेंदुलकर भी ऐसे ही थे।

हार्दिक पांड्या ने इस शो के दौरान अपने संबंध कई महिलाओँ के साथ होने की बात कही और ये भी बताया कि वो अपने परिजनों से इसके बारे में खुलकर बातें करते हैं। हालांकि राहुल अपने संबंधों के बारे में लोकेश राहुल काफी सोच समझकर जबाव दे रहे थे। जब करण जौहर ने उनके पूछा कि क्या उन्होंने ऐसा अपने साथियों के कमरे मे किया तो दोनों ने इसका जबाव हां में दिया। हरभजन सिंह ने कहा कि पांड्या कब से टीम में है जो वह टीम की संस्कृति को लेकर इस तरह से बातें कर रहा है। इनके निलंबन के बारे में भज्जी ने कहा कि मुझे लगता है कि ऐसा ही होना चाहिए था। बीसीसीआइ ने सही फैसला किया है और आगे बढ़ने का यही तरीका है। मुझे इसकी उम्मीद थी मैं इससे हैरान नहीं हूं।