मुंबई। भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शमी की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। पत्नी हसीन जहां द्वारा उन पर लगाए गए फिक्सिंग के आरोपों की अब जांच होगी। बीसीसीआई ने अपनी एंटी करप्शन यूनिट(ACU) से शमी पर पत्नी हसीन जहां द्वारा लगाए गए मैच फिक्सिंग के जांच के निर्देश दिए हैं।

बुधवार सुबह कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स के प्रमुख विनोद राय ने बोर्ड की एंटी करप्शन यूनिट के हेड नीरज कुमार को ई-मेल भेजकर इस मामले की जांच करने को कहा है। सीओए प्रमुख विनोद राय ने एक हफ्ते के भीतर जांच रिपोर्ट एसीयू को अपनी रिपोर्ट पेश करने को कहा है। बीसीसीआई सीईओ राहुल जौहरी के अलावा सभी पदाधिकारियों को भी ये ई-मेल भेजा गया है।

सीओए कमेटी के प्रमुख विनोद राय ने जो ई-मेल भेजा है, उसमें उन्होंने मोहम्मद शमी और उनकी पत्नी की उस ऑडियो रिकॉर्डिंग का भी जिक्र किया है, जिसमें पत्नी हसीन जहां उनपर विवाहेत्तर संबंधों के आरोप लगा रही है। हालांकि सीओए ने बातचीत के उस हिस्से की जांच पर ही ज्यादा जोर दिया है, जिसमें शमी इंग्लैंड के बिजनेसमैन मोहम्मद भाई का जिक्र कर रहे हैं और अलिस्बा के जरिए पैसे लेने की बात हो रही है।

इससे पहले हसीन जहां ने पति मोहम्मद शमी पर मैच फिक्सिंग के संगीन आरोप लगा थे। उन्होंने कहा था कि, शमी मैच फिक्सिंग में शामिल हो सकते हैं, क्योंकि उन्होंने इंग्लैंड के मोहम्मद भाई नाम के बिजनेसमैन से पाकिस्तानी लड़की अलिस्बा के जरिए पैसे लिए।

इस मामले में विनोद राय ने बीसीसाई की एंटी करप्शन यूनिट के हेड से कहा कि, वो बीसीसीआई एंटी-करप्शन कोड के तहत इन आरोपों की जांच करें और जांच में जो भी तथ्य सामने आते हैं, उसकी रिपोर्ट सीओए के सामने पेश करें।

इन बिंदुओं पर जांच करने को कहा

सीओए विनोद राय ने अपने ई-मेल में जांच के बिंदु भी तय किए हैं। इसमें मोहम्मद भाई और अलिस्बा कौन हैं?, उसकी पूरी जानकारी जुटाने को कहा गया है। वहीं ये भी जांचने को कहा गया है कि क्या मोहम्मद भाई ने अलिस्बा के जरिए शमी को पैसा पहुंचाया और अगर ऐसा हुआ है तो किसलिए पैसा दिया गया। उसकी भी पड़ताल करने के निर्देश दिए गए हैं।

पत्नी हसीन जहां के आरोपों के बाद बीसीसीआई ने शमी को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में नहीं शामिल किया है। ऐसे में सीओए ने सात दिन के भीतर इस रिपोर्ट को सौंपने को कहा है, ताकि इस मसले पर कोई अंतिम फैसला किया जा सके।

इस मामले में कोलकाता पुलिस ने भी बीसीसीआई को चिठ्ठी लिखकर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुए आखिरी T-20 मैच के बाद शमी के ट्रैवल डिटेल मांगी है। वहीं 16 मार्च को आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक में ये तय हो जाएगा कि शमी आईपीएल के 11वें सीजन में खेलेंगे या नहीं।