नॉटिंघम। इंग्लैंड ने शुक्रवार को पाकिस्तान को चौथे एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 3 विकेट से हरा दिया। पाकिस्तान को 340/7 पर रोकने के बाद इंग्लैंड ने 3 गेंद शेष रहते 7 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया। इंग्लैंड ने इसी के साथ पांच मैचों की सीरीज में 3-0 की अपराजेय बढ़त बना ली। इंग्लैंड ने इसी के साथ 340 से ज्यादा का लक्ष्य सफलतापूर्वक हासिल करने में भारत के रिकॉर्ड को ध्वस्त किया।

इंग्लैंड टीम ने शुक्रवार को नॉटिंघम में खास मुकाम हासिल कर लिया जब वह इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में 340 प्लस का लक्ष्य सबसे ज्यादा बार हासिल करने वाली टीम बन गई। इंग्लैंड ने यह लक्ष्य चौथी बार हासिल करते हुए भारत (3 बार) को पीछे छोड़ दिया।

इंग्लैंड ने 14 मई को ब्रिस्टल में पाकिस्तान के खिलाफ 4 विकेट पर 359 रन बनाकर जीत दर्ज की थी। उसने इसी के साथ तीन बार 340 प्लस लक्ष्य हासिल करने के मामले में भारत के रिकॉर्ड की बराबरी की थी। इंग्लैंड टीम पिछले 2 सालों से जबर्दस्त प्रदर्शन कर रही है और उसने 2019 में यह करिश्मा तीन बार कर दिखाया है। उसने चार दिनों में दो बार 340 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल किया है। दक्षिण अफ्रीका दो बार इतना लक्ष्य हासिल कर इस लिस्ट में तीसरे क्रम पर है जबकि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड भी एक-एक बार ऐसा कर चुकी हैं।

मैच का ऐसा रहा हाल :

टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान ने 7 विकेट पर 340 रन बनाए। बाबर आजम ने शानदार शतक लगाया और उन्हें फखर जमान तथा मोहम्मद हफीज से उचित सहयोग मिला। बाबर ने 112 गेंदों का सामना कर 13 चौकों और 1 छक्के की मदद से 115 रन बनाए। मोहम्मद हफीज ने 59 और फखर जमान ने 57 रन बनाए। टॉम कुरन ने 75 रनों पर 4 विकेट लिए।

इसके जवाब में इंग्लैंड ने 49.3 ओवरों में 7 विकेट पर 341 रन बनाते हुए मैच जीता। जेसन रॉय ने 89 गेंदों में 11 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 114 रन बनाए। बेन स्टोक्स ने 41 गेंदों में 5 चौकों और 3 छक्कों की मदद से नाबाद 71 रन बनाए। जेम्स विंस ने 43 रन बनाए। इंग्लैंड ने इसी के साथ पांच मैचों की सीरीज पर 3-0 की अपराजेय बढ़त के साथ कब्जा जमा लिया।