मल्टीमीडिया डेस्क। आईपीएल 2018 को अभी प्रारंभ हुए 10 दिन ही हुए है और इसी बीच वेस्टइंडीज के क्रिकेटरों ने धूम मचाना शुरू कर दी है। वेस्टइंडीज के खिलाड़ी अपनी टीमों के लिए मैच विजयी प्रदर्शन कर चुके हैं।

चेन्नई सुपर किंग्स के ड्‍वेन ब्रावो, कोलकाता नाइटराइडर्स के सुनील नरेन तथा आंद्रे रसेल और किंग्स इलेवन पंजाब के क्रिस गेल इस समय आईपीएल में दुनियाभर के खिलाड़‍ियों के बीच चमक बिखेर रहे हैं।

सीएसके के ब्रावो ने पहले ही मैच में गत विजेता मुंबई इंडियंस के खिलाफ तूफानी बल्लेबाजी की थी। ब्रावो ने मात्र 30 गेंदों में 68 रनों की विस्फोटक पारी खेल अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी। इसके अगले दिन केकेआर के सुनील नरेन ने आरसीबी के खिलाफ ऑलराउंड प्रदर्शन किया। नरेन को गेंदबाजी का मौका नहीं मिला, लेकिन उन्होंने मात्र 17 गेंदों में ‍अर्द्धशतक बनाते हुए धूम मचा दी।

इसके बाद केकेआर के आंद्रे रसेल ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मात्र 36 गेंदों में 1 चौके और 11 छक्कों की मदद से 88 रनों की तूफानी पारी खेली। इसके बावजूद उनकी टीम को हार झेलनी पड़ी।

युनिवर्सल बॉस क्रिस गेल किंग्स इलेवन के शुरुआती दो मैचों में नहीं खेल पाए, लेकिन जब उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मौका मिला तो उन्होंने उसे दोनों हाथों से भुनाया। गेल ने 33 गेंदों में 7 चौकों और 4 छक्कों की मदद से तूफानी अंदाज में 66 रन बनाते हुए अपनी टीम को आक्रामक शुरुआत दिलाई। मोहाली में हुए इस मैच में मेजबान टीम जीतने में सफल रही।

मेजबान केकेआर के दोनों कैरेबियाई खिलाड़‍ियों रसेल और नरेन ने अपनी टीम को ‍डेयरडेविल्स के खिलाफ जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। रसेल ने जीवनदान का लाभ उठाकर मात्र 12 गेंदों में 6 छक्कों की मदद से 41 रन बनाए। इसके जवाब में जब दिल्ली की बल्लेबाजी चल रही थी तो नरेन ने न केवल 18 रनों पर 3 विकेट लेते हुए टीम की जीत में योगदान दिया बल्कि खास समूह में भी प्रवेश किया। नरेन आईपीएल में 100 विकेट लेने वाले पहले विदेशी स्पिनर बने।