नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेटर हार्दिक पंड्या के यदि ऐसे ही विचार रहे तो वे मैच फिक्सिंग गिरोह के शिकार बन सकते हैं। ये गिरोह हनी ट्रैप इस क्रिकेटर को फंसा सकता है। ये कहना है बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी का।

गौरतलब है कि हार्दिक पंड्या और केएल राहुल ने पिछले दिनों करण जौहर के टीवी शो कॉफी विद करण में शिरकत की थी। इस दौरान राहुल तो महिलाओं से जुड़े सवालों पर तो संयमित दिखे लेकिन पंड्या ने बातचीत में महिलाओं को लेकर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणियां की थी जिसके बाद वे निशाने पर हैं। कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर (CoA) प्रमुख विनोद राय ने तो पंड्या और राहुल पर 2 मैचों का प्रतिबंध लगाने की सिफारिश की है।

लेकिन अब बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी ने बेहद गंभीर बात कही है। चौधरी ने CoA सदस्य डायना इडुलजी को पत्र लिखकर कहा कि पंड्या ने महिलाओं को लेकर जिस तरह की बातें की, उससे वे हनी ट्रैप का शिकार हो सकते हैं और मैच पिक्सिंग गिरोह इसका फायदा उठा सकते हैं।

उन्होंने कहा कि आईसीसी के एंटी करप्शन अधिकारी अपनी ब्रीफिंग में खिलाड़ियों को पहली सलाह हनी ट्रैप से बचने की ही देते हैं। लेकिन जिस तरह की बातें पंड्या ने की, उससे उनकी सोच के बारे में पता चलता है। मुझे आशंका है कि यदि उनके ऐसे ही विचार रहे तो वे हनी ट्रैप के जरिए मैच फिक्सिंग गिरोह का शिकार हो सकते हैं।

चौधरी ने कहा कि पंड्या और राहुल के लिए लिंग संवेदीकरण से जुड़ा एक कार्यक्रम करने की सलाह दी। चौधरी ने इन खिलाड़ियों के साथ ही मी टू मामले में फंसे बीसीसीआई सीईओ राहुल जौहरी को लपेटा। उन्होंने कहा कि जब तक ये कार्यक्रम ना हो तब तक दोनों को निलंबित किया जाना चाहिए। यदि ये खिलाड़ी टीम के साथ दौरे पर हैं तो फिर संभव हो तो पूरी टीम के लिए इस तरह का कार्यक्रम आयोजित किया सकता है। बीसीसीआई सीईओ को भी इस कार्यक्रम से जुड़ना चाहिए।

अनिरुद्ध यहीं नहीं रुके। उन्होंने ये कहा कि इस बात की जांच की जानी चाहिए कि ये खिलाड़ी इस तरह के एंटरटेनमेंट प्रोग्राम में कैसे शामिल हुए। क्या उन्होंने इसकी अनुमति मांगी, क्या उन्हें अनुमति दी गई।

इधर इस मामले के सामने आने के बाद पंड्या और राहुल की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। CoA प्रमुख विनोद राय द्वारा 2 मैचों के प्रतिबंध की सिफारिश के बाद बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना ने भी पंड्या और राहुल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।