साउथम्पटन। जो रूट के शानदार नाबाद शतक से इंग्लैंड ने आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में वेस्टइंडीज को 8 विकेट से हरा दिया। वेस्टइंडीज द्वारा निर्धारित 213 रनों के लक्ष्य को इंग्लैंड ने 33.1 ओवरों में 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया। रूट 100 रन (94 गेंद, 11 चौके) बनाकर नाबाद रहे। उनके अलावा जॉनी बेयरस्टो ने 45 और क्रिस वोक्स ने 40 रनों की शानदार पारियां खेली। रूट को उनके दोहरे प्रदर्शन (नाबाद 100 रन व 2 विकेट) के लिए प्लेयर ऑफ द मैच घोषित किया गया।

213 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड को रुट और जॉनी बेयरस्टो ने काफी अच्छी शुरुआत दी। दोनों ने बिना जोखिम लिए बल्लेबाजी की और कमजोर गेंदों को सीमा पार पहुंचाया। बेयरस्टो ने अपने शानदार फॉर्म को जारी रखा और 45 रनों (46 गेंद, 7 चौके) की पारी खेली। गेब्रिएल की गेंद पर उन्हें ब्रेथवेट ने कैच किया।

इसके बाद रूट और क्रिस वोक्स ने शानदार बल्लेबाजी की। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 104 रनों की पार्टनरशिप की। दोनों इंग्लैंड को जीत के करीब ले गए, लेकिन अपने अर्द्धशतक से केवल 10 रन दूर खेल रहे वोक्स को गेब्रिएल ने आउट कर दिया। वोक्स का स्थानापन्न फेबियन एलन ने शानदार कैच लिया।

इसके बाद रूट ने इस विश्व कप का अपना दूसरा शतक पूरा किया। ये रूट का इस विश्व कप का दूसरा शतक है। वे लगातार शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैं। उन्होंने 94 गेंदों में 11 चौकों की मदद से 100 रन बनाए और अंत तक आउट नहीं हुए।

इससे पहले इंडीज की पूरी टीम 44.4 ओवरों में 212 रनों पर आउट हो गई। निकोलस पूरन ने अपने करियर का पहला अर्द्धशतक जमाते हुए 63 रनों (78 गेंद, 3 चौके, 1 छक्का) की पारी खेली। उनके अलावा क्रिस गेल ने 36, शिमरोन हेटमायर ने 39 और आंद्रे रसेल ने 21 रनों की पारियां खेलीं। इंग्लैंड की ओर से जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड ने 3-3 विकेट लिए, जबकि जो रूट ने 2 और क्रिस वोक्स व लियाम प्लंकेट को 1-1 विकेट मिला।

वेस्टइंडीज ने इविन लुईस के रुप में पहला विकेट जल्दी ही खो दिया था। लुईस सिर्फ 2 रन बनाकर क्रिस वोक्स की गेंद पर बोल्ड हुए। इसके बाद क्रिस गेल और शाई होप ने पारी को संभाला। दोनों जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे थे उससे लगा कि वेस्टइंडीज उबर जाएगा, लेकिन लियाम प्लंकेट ने गेल का बड़ा विकेट हासिल कर इस साझेदारी को तोड़ दिया। गेल 41 गेंदों में 5 चौके और 1 छक्के की मदद से 36 रन बनाकर आउट हुए।

अभी इंडीज इस झटके से उबर भी नहीं पाया था कि मार्क वुड ने अगले ही ओवर में होप को चलता कर दिया। होप 11 रन (30 गेंद, 1 चौका) बनाकर आउट हुए। इसके बाद पूरन और शिमरोन हेटमायर ने वेस्टइंडीज की पारी संभाली। दोनोंं ने चौथे विकेट के लिए 89 रनों की साझेदारी की। यहां लग रहा था कि ये दोनों इंडीज की पारी को संभाल लेंगे, लेकिन जो रूट ने हेटमायर को अपनी ही गेंद पर कैच कर इंग्लैंड को चौथी सफलता दिलाई।

इसके बाद कप्तान जेसन होल्डन भी ज्यादा देर तक नहीं टिक पाए। रूट ने उन्हें भी अपनी ही गेंद पर कैच किया। होल्डर सिर्फ 9 रन बना पाए। इसके बाद पूरन ने अपने वनडे करियर का पहला अर्द्धशतक पूरा किया।

आंद्रे रसेल क्रीज पर आए तो उन्होंने अपने चिर परिचित अंदाज में ही बल्लेबाजी की। रसेल ने 16 गेंदों में 1 चौके और 2 छक्कों की मदद से 21 रन बनाए। उन्हें मार्क वुड ने वोक्स के हाथों कैच कराया।

इससे पहले इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। इंग्लैंड ने प्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया जबकि वेस्टइंडीज ने टीम में 3 बदलाव किए। इविन लुईस, आंद्रे रसेल और शेनोन गेब्रिएल को शामिल किया गया।

इस मैच में सभी की निगाहें जोफ्रा आर्चर पर टिकी हैं। कैरेबियाई मूल का यह खिलाड़ी अपनी पुरानी होम टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ मैदान में है। आर्चर विभिन्न आयु वर्गों की टीमों में वेस्टइंडीज की तरफ से खेलते रहे थे। 2014 अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए टीम से बाहर किए जाने के बाद वे बारबाडोस से ब्राइटन शिफ्ट हुए थे।

इंग्लैंड टीम 3 मैचों से 4 अंकों के साथ चौथे स्थान पर है। वेस्टइंडीज 3 मैचों से 3 अंकों से साथ अंक तालिका में छठे स्थान पर हैं। उसने अच्छी स्थिति में होने के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच गंवाया था जिसका उसे अब अफसोस होगा।

टीमें - इंग्लैंड - जेसन रॉय, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट, इयोन मॉर्गन (कप्तान), बेन स्टोक्स, जोस बटलर, क्रिस वोक्स, आदिल रशीद, लियाम प्लंकेट, मार्क वुड, जोफ्रा आर्चर।

वेस्टइंडीज - क्रिस गेल, इविन लुईस, शाई होप, निकोलस पूरन, शिमरोन हैटमायर, जेसन होल्डर (कप्तान), कार्लोस ब्रेथवेट, आंद्रे रसेल, शेनोन गेब्रिएल, शेल्डन कॉटरेल, ओशिन थॉमस।